Raghupati Raghav Raja Ram Bhajan: छत्तीसगढ़ के स्कूलों में 'रघुपति राघव राजा राम' भजन को किया गया अनिवार्य

छत्तीसगढ़ सरकार ने स्कूलों में रघुपति राघव राजा राम और वैष्णव जन तो तेने कहिए भजन को अनिवार्य कर दिया है।

Government of Chhattisgarh,
छत्तीसगढ़ के स्कूलों में 'रघुपति राघव राजा राम भजन को किया गया अनिवार्य  |  तस्वीर साभार: फेसबुक
मुख्य बातें
  • छत्तीसगढ़ के स्कूलों में रघुपति राघव राजा राम का गायन अनिवार्य
  • वैष्णव जन तो तेने कहिए जी" भजन भी अनिवार्य
  • बच्चों के पूर्ण विकास और समाज की बेहतरी के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने बताया अहम

अगर आप कभी छत्तीसगढ़ के स्कूलों का दौरा करेंगे तो स्कूलों में महात्मा गांधी जी के दो प्रिय भजन सुनने को मिलेगा। सरकार ने सभी स्कूलों में  "रघुपति राघव राजा राम" और "वैष्णव जन तो तेने कहिए जी" के भजन अनिवार्य रूप से अनिवार्य कर दिए हैं।"गांधीजी के इन दो पसंदीदा भजनों का छत्तीसगढ़ के स्कूलों में नियमित रूप से पाठ किया जाएगा। यह स्कूली छात्रों के बीच महात्मा गांधी के अच्छे मूल्यों और विचारों को विकसित करेगा”, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा।

गांधीजी के पसंदीदा भजनों की प्रासंगिकता बढ़ी
छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि उद्देश्य भी प्रतिष्ठित व्यक्तित्व को श्रद्धांजलि देना है।महात्मा गांधी के विचारों से राज्य के बच्चों में सामाजिक एकता और सद्भाव की भावना मजबूत होगी। गांधीजी के पसंदीदा भजनों की मूल भावना को आत्मसात करने और उन्हें रोजमर्रा की जिंदगी में अपनाने की आवश्यकता पर भी बल दिया।दुनिया भर में बदलते सामाजिक-राजनीतिक परिवेश में गांधीजी के पसंदीदा भजनों की प्रासंगिकता बढ़ी है। राष्ट्रीय एकता और सामाजिक समरसता भारत की मूल प्रकृति है और राजनीति को सेवा का माध्यम बनाने के लिए यह हम सभी का कर्तव्य है कि हम जरूरतमंदों, पीड़ितों और वंचितों के दर्द को महसूस करें और उनकी हर संभव मदद करना सुनिश्चित करें।

गांधी जी के विचारों को बढ़ावा मुख्य मकसद
सितंबर में, छत्तीसगढ़ सरकार ने महात्मा गांधी के आदर्शों को बढ़ावा देने के लिए वर्धा में महात्मा गांधी के सेवाग्राम आश्रम की तर्ज पर नवा रायपुर में एक आश्रम विकसित करने का निर्णय लिया।सरकार ने दावा किया कि ग्रामीण कला, शिल्प, लोक संगीत और अन्य कारीगरों को बढ़ावा दिया जाएगा और विशेषज्ञ भी मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए आश्रम का दौरा करेंगे। सरकार वंचित बच्चों के लिए एक वृद्धाश्रम और एक स्कूल खोलने की भी योजना बना रही है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर