भारत आ रहे राफेल विमानों में 30000 फीट की ऊंचाई पर हवा में भरा गया ईंधन, तस्वीरें आईं सामने

Rafale fighter jets: फ्रांस से भारत आ रहे 5 राफेल लड़ाकू विमानों की ताजा तस्वीरें सामने आई है। इन तस्वीरों में देखा जा सकता है कि विमानों में हवा में ईंधन भरा जा रहा है।

Rafale fighter jets
राफेल विमानों में हवा में भरा गया ईंधन 

मुख्य बातें

  • फ्रांस से भारत आ रहे राफेल विमानों में हवा में ईंधन भरा गया
  • ईंधन भरने में फ्रांसीसी वायु सेना के समर्पित टैंकर की मदद ली गई
  • 29 जुलाई को पांचों राफेल विमाम अंबाला एयरफोर्स स्टेशन पहुंचेंगे

नई दिल्ली: फ्रांस से भारत के लिए 27 जुलाई को उड़ान भर चुके राफेल लड़ाकू विमानों की तस्वीरें सामने आई हैं। इन तस्वीरों में देखा जा सकता है कि कैसे हवा में ही राफेल विमानों में ईंधन भरा जा रहा है। ये पांचों विमान बुधवार यानी 29 जुलाई को अंबाला एयरफोर्स स्टेशन पहुंच जाएंगे। यहां इन्हें औपचारिक रूप से भारतीय वायु सेना में उसके 17वें स्क्वाड्रन के तौर पर शामिल किया जाएगा जिसे 'गोल्डन ऐरो' भी कहा जाता है। भारतीय वायु सेना ने कहा, 'राफेल लड़ाकू जेट विमानों में फ्रांस से अंबाला के रास्ते पर हवा में ईंधन भरा जा रहा है। हमारी राफेल की यात्रा के लिए फ्रांसीसी वायु सेना द्वारा दिए गए समर्थन की सराहना की जानी चाहिए। 30000 फीट ऊंचाई पर राफेल विमानों में ईंधन भरा गया।

वायुसेना के एक अधिकारी ने कहा कि विमानों में उड़ान के दौरान हवा में ही ईंधन भरा गया। इस काम में फ्रांसीसी वायु सेना के समर्पित टैंकर की मदद ली गई।

दसॉ द्वारा निर्मित, राफेल लड़ाकू विमानों ने सोमवार को फ्रांस के बोडरे में मेरिनैक एयरबेस से भारत के लिए उड़ान भरी। फ्रांस में भारत के राजदूत जावेद अशरफ राफेल जेट को रवाना करने की रवानगी के मौके पर मौजूद रहे। उन्होंने कहा, लंबे समय से प्रतीक्षित और राफेल के दो स्क्वाड्रन भारतीय वायुसेना और भारत की सैन्य क्षमताओं को मजबूत करेंगे। अशरफ ने भारतीय वायुसेना के पायलटों से मुलाकात की और उन्हें दुनिया के सबसे उन्नत और शक्तिशाली लड़ाकू विमानों में से एक को उड़ाने वाले पहले भारतीय पायलट बनने पर बधाई दी। 

विमान फ्रांस से भारत के बीच लगभग 7000 किलोमीटर की दूरी को तय करेगा। बीच में यह विमान फिलहाल संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अल दाफरा हवाईअड्डे पर रुके। इस जत्थे में तीन एक सीट वाले और दो विमान दो सीटों वाले हैं।  वायुसेना ने एक बयान में कहा, 'विमानों के 29 जुलाई को अंबाला में वायुसैनिक अड्डे पर पहुंचने की संभावना है अगर मौसम (परिस्थितियां) सही रहता है तो।'

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर