Punjab: कृषि कानूनों का विरोध, सुखबीर सिंह बादल के नेतृत्व में अकाली दल का किसान मार्च शुरू

देश
किशोर जोशी
Updated Oct 01, 2020 | 10:05 IST

Kisan March in Punjab: पंजाब में अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल के नेतृत्व में अमृतसर से किसान मार्च शुरू हो गया है। कृषि कानूनों के विरोध में यह मार्च विभिन्न शहरों से गुजरेगा।

Punjab Kisan March, led by Shiromani Akali Dal president Sukhbir Singh Badal, begins from Amritsar
Punjab: कृषि कानूनों के विरोध में अकाली दल का किसान मार्च  

मुख्य बातें

  • कृषि कानूनों के विरोध में अकाली दल का किसान मार्च शुरू
  • बादल बोले- राज्यपाल को ज्ञापन सौंपेंगे, जिसमें केंद्र और राष्ट्रपति से अनुरोध किया जाएगा कि संसद सत्र को फिर से बुलाया जाए
  • इस किसान मार्च में बड़ी संख्या में लोग कर रहे हैं शिरकत

अमृतसर: कृषि कानूनों के खिलाफ आज पंजाब में अकाली दल एक बड़ा किसान मार्च निकाल रहा है। कहा जा रहा है कि इस मार्च में दो लाख किसान शामिल होंगे। मार्च की शुरूआत करने के लिए सबसे पहले शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल अमृतसर स्थित गुरुद्वारे में पहुंचे और फिर यहां से उनके नेतृत्व में किसान मार्च की शुरूआत हुई। बादल ने बताया, 'हम राज्यपाल को एक ज्ञापन देंगे, जिसमें केंद्र और राष्ट्रपति से अनुरोध किया जाएगा कि संसद सत्र को फिर से बुलाया जाए और कृषि कानूनों को वापस लिया जाए।'

हरसिमत कौर भी करेंगी नेतृत्व

पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल तलवंडी साबो में श्री दमदमा साहिब से रैली का नेतृत्व करेंगी और आनंदपुर साहिब में श्री केशगढ़ साहिब से प्रेम सिंह चंदूमाजरा प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे। अमृतसर से शुरू होकर मोहाली में खत्म होने से पहले रैली जालंधर, फगवाड़ा, नवांशहर, रोपड़, कुराली और मुल्लानपुर से गुजरेगी।  8 बजे रैली की शुरुआत हुई जबकि तलवंडी साबो से भी इसी समय इसकी शुरूआत हुई, जबकि आनंदपुर साहिब से इसकी शुरुआत सुबह 10 बजे होगी।

रेल रोको आंदोलन जारी

आपको बता दें कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने पंजाब में अपना ‘रेल रोको’ आंदोलन अभी भी जारी है। किसानों ने अगले महीने से अपना आंदोलन तेज करने और ‘रेल रोको’ आंदोलन अनिश्चित अवधि के लिए चलाने का निर्णय किया है। किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के बैनर तले किसान 24 सितम्बर से राज्य में विभिन्न स्थानों पर रेल पटरियों पर बैठे हुए हैं। प्रदर्शनकारियों ने तीन ‘किसान विरोधी’ कानूनों को वापस लेने की मांग की है।
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर