'पुलवामा आतंकी हमले' के आरोपी वाज-उल-इस्लाम ने मांगी जमानत,कहा NEET एग्जाम में होना है शामिल

देश
रवि वैश्य
Updated Sep 01, 2020 | 18:52 IST

पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama terror attack) के एक साल बाद इस घटना के एक आरोपी  वाज-उल-इस्लाम ने जमानत मांगी है और कहा है कि उसे NEET परीक्षा में शामिल होना, वहीं एनआईए ने इसका विरोध किया है।

Pulwama terror attack accused Waiz-ul-Islam has filed an application for bail claiming that he wants to appear for the NEET Exam
'पुलवामा आतंकी हमले' के आरोपी वाज-उल-इस्लाम ने मांगी जमानत,कहा NEET एग्जाम में होना है शामिल 

मुख्य बातें

  • पुलवामा आतंकी हमले के आरोपी वाज-उल-इस्लाम ने जमानत के लिए एक आवेदन दायर किया है
  • दावा किया गया है कि वह राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (NEET) की परीक्षा में शामिल होना चाहता है
  • जांच एजेंसी राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने आरोपी के आवेदन का विरोध किया है

श्रीनगर: भारत सरकार ने कोरोनोवायरस महामारी के प्रसार के बावजूद देश भर में इंजीनियरिंग और मेडिकल अध्ययन के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करने का फैसला किया है वहीं एक आतंकवादी आरोपी भी इसको लेकर इच्छुक नजर आ रहा है। पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama terror attack) के आरोपी वाज-उल-इस्लाम ने जमानत के लिए एक आवेदन दायर किया है जिसमें दावा किया गया है कि वह राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (NEET) की परीक्षा में शामिल होना चाहता है। उनकी जमानत 3 सितंबर (गुरुवार) के लिए सूचीबद्ध है।

हालांकि, मामले की जांच करने वाली प्रमुख जांच एजेंसी राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने आरोपी के आवेदन का विरोध किया है। "हम इस आवेदन का विरोध कर रहे हैं," एनआईए के वकील विपिन कालरा, जम्मू में कहा। समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि मामले में अगली सुनवाई 15 सितंबर को निर्धारित की गई है।

जेईई मेन्स परीक्षा के लिए कुल 8.58 लाख उम्मीदवारों ने पंजीकरण किया है, जबकि NEET के लिए 15.97 लाख छात्रों ने पंजीकरण किया है, दोनों सितंबर में आयोजित होने वाले हैं।

कोविड-19 महामारी के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जेईई परीक्षाएं दस अलग-अलग शिफ्ट में करवाई जा रही हैं।नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए के महानिदेशक ने कहा, "जेईई की परीक्षाएं करवाने के लिए हमने 10 शिफ्ट तय की हैं। हर शिफ्ट के लिए 615 केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षाएं देशभर के 234 शहरों में आयोजित की जा रही हैं। परीक्षाएं सुचारू रूप से चलाने के लिए सिटी कोऑर्डिनेटर बनाए गए हैं। सिटी कोऑर्डिनेटर इलाके की पुलिस एवं प्रशासन के साथ संपर्क में रहेंगे, ताकि परीक्षा केंद्र पर किसी भी प्रकार की भीड़ या अन्य कोई अव्यवस्था न हो।"

जेईई की परीक्षा के लिए ऑड-ईवन फार्मूला भी तय किया गया

इस फार्मूले के तहत परीक्षा केंद्रो में आने वाले छात्रों को दो पालियों में कंप्यूटर आवंटित किए जाएंगे। इसके साथ ही जेईई और नीट परीक्षाओं के दौरान एक परीक्षा कक्ष में अधिकतम 12 छात्र ही बैठ सकेंगे।पहली शिफ्ट में ऑड नंबर वाले और दूसरी शिफ्ट में ईवन नंबर वाले छात्र कंप्यूटर पर बैठकर परीक्षा देंगे। जेईई परीक्षा के लिए 8.58 लाख छात्रों ने फार्म भरा है।एजेंसी ने यह सुनिश्चित किया कि 99 प्रतिशत से अधिक उम्मीदवारों को उनकी पसंद के परीक्षा केंद्र मिले। इन परीक्षाओं के लिए छात्रों को घर के नजदीक परीक्षा केंद्र चुनने का विकल्प दिया गया था।

14 फरवरी 2019 को अंजाम दिया गया था पुलवामा आतंकी हमला

पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के अवंतीपोरा इलाके में 14 फरवरी 2019 को 40 केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के जवानों पर एक नृशंस हमला किया। अपराह्न करीब 3:30 बजे हमला हुआ, जिसकी पहचान स्थानीय लड़के आदिल अहमद डार के रूप में की गई, जिसने श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर 2,500 से अधिक सीआरपीएफ कर्मियों को लेकर 78 वाहनों के काफिले में 350 किलोग्राम विस्फोटक से लदी एक महिंद्रा स्कॉर्पियो कार को टक्कर मार दी।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर