उत्तर प्रदेश में टीकाकरण की तैयारियां जोरों पर, 5 जनवरी को सभी 75 जिलों में ड्राई रन

देश
Updated Jan 03, 2021 | 22:10 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में 5 जनवरी को छह-छह स्थानों पर कोरोना वायरस टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जाएगा। राज्य में पहले चरण के दौरान नौ लाख स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण होना है।

vaccine
कोरोना वायरस वैक्सीन 

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सफलता के साथ कोरोना टीकाकरण की तैयारियों को परखने के बाद अब पांच जनवरी को प्रदेश के सभी 75 जिलों के छह-छह स्थानों पर कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) किया जाएगा। हर जिले के छह स्थानों में से तीन शहरी और तीन स्थान ग्रामीण क्षेत्रों में यह ड्राई रन होगा। इस कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) को फूलप्रूफ बनाने के लिए राज्य के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने सभी मंडलायुक्त (कमीश्नर) और जिलाधिकारियों (डीएम) को पत्र लिखा है। 

हर जिले में 6-6 स्थानों पर होगा ड्राई रन

राज्य में पहले चरण के दौरान नौ लाख स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होना है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीकाकरण की फूलप्रूफ व्यवस्था करने के निर्देश दिए हुए हैं। जिसके तहत ही शनिवार लखनऊ में कोरोना टीकाकरण की तैयारियों को परखा गया और अब पांच जनवरी को प्रदेश के सभी 75 जिलों के छह-छह स्थानों पर कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) किया जाएगा। यह अभियान सफलता के साथ पूरा हो, इसके लिए सूबे के सभी सभी मंडलायुक्त और जिलाधिकारियों को भेजे गए पत्र में लिखा गया है कि कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) को फूलप्रूफ बनाने के लिए क्या-क्या किया जाना है? टीकाकरण के ड्राई रन के लिए किन बातों का विशेष ध्यान रखना है और क्या व्यवस्था की जानी है? पत्र में इसका विस्तार से उल्लेख किया गया है। इसके अनुसार ही मण्डलायुक्त तथा जिलाधिकारियों को जिले में कोरोना टीकाकरण के पूर्वाभ्यास (ड्राई रन) को फूलप्रूफ बनाने के इंतजाम करने को कहा गया है। 

सुबह 10 बजे से शुरू होगा ड्राई रन

इस पत्र के अनुसार, कोरोना टीकाकरण अभियान के ड्राई रन को फूलप्रूफ बनाने के लिए सभी मण्डलायुक्त तथा जिलाधिकारियों को उन स्थलों का निरीक्षण करने तथा वहां टीकाकरण के लिए सीरिंज आदि समय पर पहुंच जाएं, इसे सुनिश्चित करने को कहा गया है। जिले में टीकाकरण के लिए चिन्हित हुए स्थल पर टीकाकरण कक्ष तथा लोगों के बैठने आदि की उचित व्यवस्था करने को कहा गया है। टीकाकरण करने वाले टीम को टीकाकरण स्थल पर 45 मिनट पहले अर्थात सुबह 9.15 बजे पहुचने की व्यवस्था करने को कहा गया है। ड्राई रन सुबह 10 बजे शुरू होगा और तब तक जारी रहेगा जब तक सभी लाभार्थी उपस्थित नहीं हो जाते। अधिकारियों को कहा गया है कि वैक्सीन, सीरिंज, एईएफआई किट और अन्य लॉजिस्टिक्स समय में सत्र स्थल तक पहुंचे, इसकी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

तैयारियों को परखा जाएगा

पत्र में लिखा गया है कि इस टीकाकरण अभियान में कोई बाधा ना उत्पन्न होने पाए इसके लिए सेक्टर अधिकारियों को नियुक्त अच्छा होगा, जैसा कि चुनाव के दौरान किया जाता है। ऐसे अधिकारियों की देखरेख में ड्राई रन समय पर शुरू हो। टीकाकरण के लिए लोग समय पर पहुंचे इसके लिए उन्हें समय से सूचित किया जाए। सेक्टर अधिकारी एक दिन पहले साइटों का निरीक्षण करे यह भी सुनिश्चित करने को कहा गया है। टीकाकरण के लिए वैक्सीन की सुरक्षा एवं भंडारण, साइट पर परिवहन की व्यवस्था भी टीकाकरण के दौरान सुनिश्चित करने को कहा गया है। कोरोना टीकाकरण के इस ड्राईरन के दौरान कर्मचारियों की कार्यक्षमता, टीकाकरण केंद्र की व्यवस्था, मरीज के पंजीकरण, टीका लगाने के तरीके आदि का आंकलन किया जा सकेगा। यदि कहीं कोई कमियां दिखी तो उसे समय पर सुधार लिया जाएगा। कोरोना टीकाकरण के इस ड्राईरन को सफलता के साथ पूरा करने के लिए सरकार के स्तर से युद्धस्तर पर प्रयास किये जा रहे हैं। इसी क्रम में यह पत्र लिखा गया है ताकि कहीं किसी स्तर पर कोई कमी ना रहने पाए।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर