मथुरा की शाही ईदगाह मस्जिद में हिंदू महासभा के जलाभिषेक के ऐलान के बाद पुलिस अलर्ट, इमाम ने लिया ये फैसला

देश
गौरव श्रीवास्तव
गौरव श्रीवास्तव | कॉरेस्पोंडेंट
Updated Dec 02, 2021 | 20:22 IST

मथुरा की शाही ईदगाह मस्जिद में अखिल भारत हिंदू महासभा ने 6 दिसंबर को जलाभिषेक करने के ऐलान किया उसके बाद सभी मस्जिदों के इमाम ने कहा हमें पुलिस पर भरोसा है मस्जिद के पास कोई शरारती तत्व नहीं आ पाएगा।

Police alert after the announcement of Jalabhishek of Hindu Mahasabha in Shahi Idgah Mosque of Mathura, Imams took this decision
साम्प्रदायिक सौहार्द्र बनाए रखने के लिए शहर की सभी मस्जिदों के इमाम ने लिया ये फैसला 

छह दिसंबर को हिंदूवादी संगठनों के मथुरा की शाही ईदगाह मस्जिद में जलाभिषेक करने के एलान के बाद साम्प्रदायिक सौहार्द्र बनाए रखने के लिए शहर की सभी मस्जिदों के इमाम ने फैसला लिया है कि जुमे की नमाज लोग अपने मोहल्ले की मस्जिदों में ही पढ़ेंगे और शाही मस्जिद पर भीड़ इकट्ठी नहीं करेंगे। टाइम्स नाउ नवभारत से बात करते हुए मथुरा की अलग-अलग मस्जिदों के इमाम ने बताया कि उन्हें पुलिस ने भरोसा दिलाया है कि शाही मस्जिद के पास कोई शरारती तत्व फटक भी नहीं पाएगा।

जलाभिषेक वाले ऐलान के बाद कल शुक्रवार को जुमे की नमाज भी होनी है। अंदेशा जताया जा रहा था कि शाही ईदगाह मस्जिद में कल बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग एकत्रित होकर नमाज अदा कर सकते हैं, जिससे माहौल बिगड़ने की संभावना हो सकती है। इसी के चलते एहतियातन ये फैसला हुआ। मथुरा में सुरक्षा व्यवस्थाओं को बनाए रखने के लिए पुलिस लगातार काम कर रही और जो लोग इस तरह की अफवाह फैला रहे हैं उनकी पहचान करके कार्रवाई हो रही है।

आपको बता दें अखिल भारत हिंदू महासभा ने ऐलान किया था कि 6 दिसंबर को कृष्ण जन्मभूमि के साथ बनी शाही ईदगाह मस्जिद परिसर में वह लड्डू गोपाल का जलाभिषेक करेंगे। जिसके बाद मथुरा जिले में धारा 144 भी लागू कर दी गयी थी। नारायणी सेना और अखिल भारत हिंदू महासभा के पदाधिकारियों पर मथुरा पुलिस ने कार्यवाही भी की है जिस वजह से दोनों ने कार्यक्रमों को निरस्त भी कर दिया है लेकिन 6 दिसम्बर तक न पुलिस न स्थानीय लोग कोई ढिलाई बरतना चाहते हैं।

दूसरी तरफ मथुरा में सुरक्षा व्यवस्था की बेहतर व्यवस्था के लिए लगातार फ्लैग मार्च हो रहा है। जिला प्रशासन लगातार मुस्लिम समाज और शहर के संभ्रांत लोगों के साथ संवाद कर रहा है। कई लोगों को पुलिस ने नजरबंद भी किया है और जिन 5 हिंदूवादी संगठनों ने कार्यक्रम के लिए अनुमति मांगी थी उन सभी उसे भी एक सिरे से नकार दिया गया है।

मथुरा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गौरव ग्रोवर ने बताया कि किसी भी संगठन को किसी भी कार्यक्रम की कोई अनुमति नहीं है। सोशल मीडिया से लेकर भीड़भाड़ वाले इलाके और अफवाह फैलाने वाले लोगों पर पुलिस और इंटेलीजेंस की नजर है। एसएसपी ने लोगों से अपील है कि वह किसी तरह की अफवाह पर ध्यान ना दें।

क्या है जलाभिषेक वाला ऐलान!

अखिल भारत हिंदू महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष राज्यश्री चौधरी ने कुछ दिन पहले  ऐलान किया था कि श्री कृष्ण जन्मभूमि के साथ बनी शाही ईदगाह मस्जिद में वह 6 दिसंबर को लड्डू गोपाल का जलाभिषेक करेंगे, जिसके लिए सोशल मीडिया के माध्यम से आह्वान भी किया। अब पुलिस की कार्रवाई का डर देखकर अखिल भारत हिंदू महासभा ने जलाभिषेक के कार्यक्रम को निरस्त कर दिया है। एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था को मद्देनजर रखते हुए बाहर के जिलों से भी अतिरिक्त बलों की तैनाती हो रही है।

इससे पहले श्री कृष्ण जन्मभूमि की 13.37 एकड़ भूमि को मुक्त कराने के लिए और शाही ईदगाह मस्जिद को हटाने के लिए मथुरा कोर्ट में कई मुकदमे भी चल रहे हैं जिस पर सुनवाई चल रही है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर