PMCARE Fund: राहुल गांधी ने वेंटिलेटर को बनाया मुद्दा, पूछा- क्यों घटिया सामानों की हो रही है खरीद

देश
ललित राय
Updated Jul 06, 2020 | 00:06 IST

Rahul Gandhi ON PMCARE: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पीएम केयर फंड को लेकर अक्सर सवाल उठाते रहे हैं। इस फंड से वेंटिलेटर खरीद को मुद्दा बनाया है।

PMCARE Fund: राहुल गांधी ने वेंटिलेटर को बनाया मुद्दा, पूछा- क्यों घटिया सामानों की हो रही है खरीद
राहुल गांधी, कांग्रेस सांसद 

मुख्य बातें

  • पीएम केयर फंड को लेकर कांग्रेस पहले भी मोदी सरकार पर निशाना साधती रही है
  • इस दफा राहुल गांधी ने वेंटिलेटर का मुद्दा उठाया और पूछा क्यों घटिया सामानों की हो रही है खरीद
  • राहुल गांधी ने जनता के पैसों की बर्बादी बताया, बोले दुरुपयोग बंद हो

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमितों की तादाद सात लाख के करीब है। लेकिन अच्छी बात यह है रिकवरी रेट 60 फीसद से ज्यादा है। इस तरह की तस्वीर के बीच कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि पीएम केयर फंड के क्या कुछ हो रहा है वो सबको जानना चाहिए। राहुल गांधी ने कहा कि यह सरकार मनमानी पर उतर चुकी है। जब पीएम राहत कोष पहले से ही अस्तित्व में था तो आखिर इस तरह के समानांतर कोष की जरूरत क्यों पड़ी। 

पीएम केयर फंड की आलोचना
राहुल गांधी ट्वीट का पीएम केयर फंड की खामियों का कुछ इस तरह बताते हैं जैसे इसके जरिए भारतीयों की जिंदगी खतरे में है। लोगों के टैक्स के पैसे का इस्तेमाल घटिया तरीके के प्रोडक्ट की खरीदारी में की जा रही है। इसके साथ ही उन्होंने "BJP fails Corona Fight". हैशटैग का इस्तेमाल किया है। राहुल गांधी कहते हैं कि मौजूदा सरकार कोरोना काल को भी उत्सव के तौर पर मना रही है। एक तरफ मरीजों को पर्याप्त संख्या में बेड्स नहीं मिल रहे हैं तो दूसरी तरफ यह सरकार ढोल पीट रही है। 

वेंटिलेटर की गुणवत्ता पर उठाए सवाल
राहुल गांधी ने जो तस्वीर पोस्ट की है उसमें वेंटीलेटर को दिखाया गया है और यह बताया जा रहा है कि किस तरह से पीएम केयर फंड से घटिया सामानों की खरीद करने के साथ जनता के पैसों की बर्बादी की जा रही है। उन्होंने चार मुख्य बिंदुओं पर सवाल उठाया है जैसे कि वेंटिलेटर बनाने वाला कौन है, टेंडरिंग की प्रक्रिया क्या है और मशीन की कीमत क्या है। उन्होंने कहा कि वेंटिलेटर एक ऐसा संवेदनशील उपकरण है जिसकी गुणवत्ता के साथ समझौता नहीं किया जा सकता है। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर