लड़कियों की पढ़ाई से लेकर गंगा की सफाई तक, कल्‍याण कार्यों के लिए पीएम मोदी ने दिया 103 करोड़ रुपये का दान

लड़कियों की शिक्षा से लेकर गंगा नदी की सफाई तक पीएम नरेंद्र मोदी ने सार्वजनिक कल्‍याण कार्यों के लिए एक बड़ी धनराशि दान की है, जो उनकी निजी बचत और उपहरों की नीलामी से जुटाई गई।

लड़कियों की पढ़ाई से लेकर गंगा की सफाई तक, कल्‍याण कार्यों के लिए पीएम मोदी ने दिया 103 करोड़ रुपये का दान
लड़कियों की पढ़ाई से लेकर गंगा की सफाई तक, कल्‍याण कार्यों के लिए पीएम मोदी ने दिया 103 करोड़ रुपये का दान  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • पीएम मोदी ने कल्‍याण कार्यों के लिए 103 करोड़ रुपये दान दिए हैं
  • यह राशि उनकी निजी बचत और उपहारों की नीलामी से एकत्र की गई
  • लड़कियों की शिक्षा सहित कई कल्‍याण कार्यों के लिए पीएम ने दान दिया है

नई दिल्‍ली : अपने अब तक के कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लड़कियों की शिक्षा, गंगा की सफाई, स्‍वच्‍छताकर्मियों के कल्‍याण सहित कई सार्वजनिक कार्यों के लिए अपने निजी बचत और उपहारों की नीलामी से मिली राशि से करीब 103 करोड़ रुपये दान दिया है। सूत्रों के अनुसार, उनका हालिया दान पीएम कार्स फंड के लिए दिया गया 2.25 लाख रुपये है, जिसका गठन कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच किया गया था, ताकि किसी सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल या किसी अन्य प्रकार की आपात स्थिति में राहत के लिए इस राशि का इस्‍तेमाल किया जा सके।

पीएम कार्स फंड का गठन मार्च में किया गया था। इसमें महज पांच दिनों में 3,076.62 करोड़ रुपये मिल गए थे, जैसा कि बुधवार को दिए गए एक बयान में कहा गया है। सार्वजनिक कार्यों के लिए पीएम मोदी के दान को लेकर सूत्रों का कहना है कि उन्होंने 2019 में कुंभ मेले के दौरान स्वच्छता कर्मचारियों के कल्याण के लिए स्थापित निधि के लिए अपनी व्यक्तिगत बचत से 21 लाख रुपये दिए।

गंगा की सफाई के लिए बड़ी धनराशि समर्पित

वहीं, 2019 में जब पीएम मोदी को दक्षिण कोरिया में सियोल शांति पुरस्कार मिला तो पुरस्‍कार की 1.30 करोड़ रुपये की पूरी राशि गंगा नदी की सफाई के लिए समर्पित नमामि गंगे परियोजना को देने की घोषणा की। पीएम मोदी ने कई सार्वजनिक कार्यों के लिए योगदान दिया है और यह राशि अब 103 करोड़ रुपये से अधिक हो गई है।

प्रधानमंत्री के तौर पर उन्हें मिले कई स्‍मृति चिन्‍हों की भी हाल ही में निलामी की गई है, जिससे 3.40 करोड़ रुपये एकत्र हुए हैं। इसे भी नमामि गंगे परियोजना के लिए उन्‍होंने दान कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक, देश के प्रधानमंत्री की बागडोर संभालने के लिए 2014 में जब उन्‍होंने गुजरात के मुख्‍यमंत्री का पद छोड़ा, तब सरकारी कर्मचारी की बेटी की शिक्षा के लिए उन्‍होंने अपनी निजी बचत से 21 लाख रुपये का दान दिया था।

मुख्यमंत्री के रूप में उन्‍हें जो स्‍मृति चिन्‍ह मिले थे, उसकी भी नीलामी की गई, जिससे 89.96 करोड़ रुपये जुटाए गए। इसे उन्‍होंने कन्या केलावणी फंड के लिए यह दान देने का ऐलान किया, जो लड़कियों की शिक्षा से जुड़ी परियोजना है। प्रधानमंत्री को 2015 तक मिले उपहारों की नीलामी भी करवाई गई, जिससे 8.35 करोड़ रुपये जुटाए गए। पीएम मोदी ने इन्‍हें भी नमामि गंगे मिशन में देने की घोषणा की।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

अगली खबर