Modi Jhansi Visit: आज झांसी दौरे पर जाएंगे PM मोदी, कई योजनाओं की सौगात के साथ देश को सौंपेंगे ये खास युद्ध सामग्री

PM Modi Jhansi Visit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपनी झांसी यात्रा के दौरान रक्षा क्षेत्र की कई पहलों का शुभारंभ करेंगे और कई योजनाओं की सौगात भी देंगे।

PM Narendra Modi to visit Jhansi today, will hand over special war materials to the country with the gift of many schemes
झांसी दौरे पर देश को ये खास युद्ध सामाग्री सौपेंगे PM मोदी 
मुख्य बातें
  • वायुसेना को स्वदेशी लड़ाकू हेलीकॉप्टर सौपेंगे पीएम मोदी
  • झांसी में 6,250 करोड़ की कई परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे पीएम मोदी
  • बुंदेलखंड को प्रधानमंत्री देंगे कई सौगात, अर्जुन बांध का करेंगे लोकार्पण

PM Modi UP Visit: : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज झांसी दौरे पर जा रहे हैं। विधानसभा चुनाव से ठीक पहले प्रधानमंत्री अपने इस दौरे पर झांसी ही नहीं पूरे बुंदेलखंड को कई विकास योजनाओं की सौगात देने वाले हैं। रक्षा क्षेत्र में आत्मानिर्भर भारत पर जोर देने के लिए प्रधानमंत्री औपचारिक तौर पर स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित उपकरणों को सशस्त्र बलों के सेवा प्रमुखों को सौंपेंगे। पीएम मोदी वायुसेना को लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर सौंपेंगे। आर्मी चीफ को भारतीय स्टार्टअप की ओर से डिजाइन और विकसित किए गए ड्रोन और साथ ही नौसेना के जहाजों के लिए उन्नत इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट सौंपेंगे।

पीएम सौंपेंगे ये खास सामाग्री

प्रधानमंत्री झांसी में भारत डायनेमिक्स के तहत एक संयंत्र की आधारशिला रखेंगे, जिसे टैंक रोधी निर्देशित मिसाइलों के लिए प्रणोदन प्रणाली बनाने के वास्ते 400 करोड़ रुपये में स्थापित किया जाएगा। इसके अलावा पीए मोदी राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व’ के अंतिम दिन स्वदेशी रूप से विकसित रक्षा प्लेटफॉर्म जैसे कि हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर (LCH) भारतीय वायुसेना को, भारतीय सेना को ड्रोन और भारतीय नौसेना को विमानवाहक पोत, युद्धपोत, के लिए उन्नत इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सुइट सौंपेंगे। LCH हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है। यह दुनिया का एकमात्र हमला करने वाला हेलीकॉप्टर है जो 5,000 मीटर की ऊंचाई पर भारी मात्रा में हथियारों और ईंधन के साथ उतर सकता है और उड़ान भर सकता है।

Image

अर्जुन बांध का लोकार्पण

बुंदेलखंड की एक पुरानी कहावत है- न पेट को पानी, न खेत को पानी। यानी सूखे बुंदेलखंड में न तो पीने के लिए पानी है और न खेती के लिए। हर साल गर्मियों में झुलसते खेत और प्यासा बुंदेलखंड सुर्खियों में होते हैं।  यूपी चुनाव से ऐन  पहले यहां अर्जुन बांध का लोकार्पण कर भाजपा ये संदेश देना चाहती है कि उन्होंने प्यासे बुंदेलखंड में सिर्फ इंसानों की प्यास की परवाह नहीं की बल्कि खेती की भी परवाह की है। विकास के नाम पर बुंदेलखंड का वोटबैंक साधने के लिए प्रधानमंत्री मोदी पहले ही चित्रकूट जिले के बीहड़ इलाके के 239 ग्राम पंचायतों के 470 गांवों में 1500 करोड़ रुपये की लागत से पेयजल की पांच पाइप लाइन परियोजनाओं का भी शिलान्यास कर चुके हैं।

Image

पानी है बुंदेलखंड में अहम मुद्दा

 बुंदेलखंड में पानी इतना बड़ा मुद्दा है कि इसपर हर चुनाव में सियासत होती आई है। साल 2016 में अखिलेश यादव की सरकार में विधानसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार ने पानी की एक ट्रेन बुंदेलखंड के लिए भेजी थी, लेकिन अखिलेश यादव ने उसे झांसी स्टेशन पर रुकवा दिया था। अखिलेश ने इसे यह कहकर खारिज कर दिया था कि प्रदेश में लातूर जैसे संकट नहीं हैं, जो वाटर ट्रेन की जरूरत पड़े। केंद्र सरकार ने दावा किया कि वो प्यासे महोबा की प्यास मिटाना चाहते है, जबकि सूबे की सपा सरकार सहयोग नही कर रही है.. अब एक बार फिर सूबे में विधानसभा चुनाव होने वाले है, उससे पहले पीएम मोदी बुंदेलखंड के खेतों को पानी देने के लिए अर्जुन बांध की सौगात दे रहे हैं।

बीजेपी की रणनीति

बीजेपी के बुंदेलखंड प्लान में एक्सप्रेस-वे भी आता है। चित्रकूट जिले के भरतकूप क्षेत्र से शुरू होकर बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, औरैया होकर इटावा में कुदरैल गांव के पास आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगा। इस चार से छह लेन वाले एक्सप्रेस-वे की लंबाई 296.07 किलोमीटर है और इसकी अनुमानित लागत 14,716.26 करोड़ रुपये है। इसके अलावा डिफेस कॉरिडोर को के जरिए भी बीजेपी बुंदेलखंड के विकास के दावे कर रही है। बुंदेलखंड में 19 सीटें आती हैं औऱ 2017 विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने यहां क्लीन स्वीप किया था। बीजेपी के लिए बुंदेलखंड कितना अहम है इसे ऐसे समझिए- बुंदेलखंड विधानसभा चुनावों में 1991 में बीजेपी को यहां से सबसे ज्यादा सीटें 11 सीटों पर जीती थी। उके बाद से बीजेपी यहां पर दहाई के अंक तक को नहीं छू पाई थी। 2017 के विधानसभा चुनाव में पार्टी को बड़ी सफलता मिली और सभी 19 सीटें जीतीं। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर