पीएम मोदी ने किया Purvanchal Expressway का हुआ उद्घाटन, सुखोई-मिराज-जगुआर ने टचडाउन किया

देश
लव रघुवंशी
Updated Nov 16, 2021 | 16:13 IST

Purvanchal Expressway: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुल्तानपुर में लखनऊ से गाजीपुर तक 22,500 करोड़ से निर्मित 341 KM लंबाई और 6 लेन के पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को राष्ट्र को समर्पित किया। इस मौके पर एयरशो भी हुआ।

Purvanchal Expressway
पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे 
मुख्य बातें
  • प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया
  • राजधानी लखनऊ को गाजीपुर से जोड़ने वाला एक्सप्रेस-वे छह लेन का है
  • मोदी एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करने के लिए सी-130 हरक्यूलिस विमान से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे हवाई पट्टी पर उतरे

Purvanchal Expressway: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुल्तानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन किया। प्रधानमंत्री मोदी 341 किलोमीटर लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करने के लिए C-130जे सुपर हरक्यूलिस से सुल्तानपुर जिले के करवल खीरी में उतरे। बाद में इस एक्सप्रेस वे पर भारतीय वायु सेना के कई लड़ाकू विमानों ने लैंड किया। एक्सप्रेस वे पर सुखोई 30MKI, मिराज 2000, जगुआर ने टचडाउन किया। हरक्यूलिस विमान से पैराकमांडो उतरे। 5 लड़ाकू विमानों ने फ्लाईपास्ट किया। इस दौरान पीएम मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस एयरशो को देखते रहे। 

पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि मैं यूपी के ऊर्जावान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी, उनकी टीम और यूपी के लोगों को पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की बहुत-बहुत बधाई देता हूं। हमारे जिन किसान भाई-बहनों की भूमि इसमें लगी है, जिन श्रमिकों का पसीना इसमें लगा है, जिन इंजीनियरों का कौशल इसमें लगा है, उनका भी मैं बहुत-बहुत अभिनंदन करता हूं। 

मोदी ने कहा कि जिन लोगों को यूपी की क्षमताओं पर, यूपी के लोगों की क्षमताओं पर कोई संदेह है, उन्हें आज ही सुल्तानपुर आना चाहिए और उनकी क्षमता को देखना चाहिए। ऐसा आधुनिक एक्सप्रेसवे अब बन गया है जहां 3-4 साल पहले यह सिर्फ जमीन का एक टुकड़ा था। 3 साल पहले जब मैंने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया था, तो मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं एक दिन यहां विमान से उतरूंगा। देश की सुरक्षा उतनी ही जरूरी है जितनी उसकी समृद्धि। अब से थोड़ी देर में हम देखेंगे कि कैसे पूर्वांचल एक्सप्रेसवे अब आपात स्थिति में भारतीय वायु सेना के लिए एक और शक्ति बन गया है। हमारा लड़ाकू विमान शीघ्र ही एक्सप्रेस-वे पर उतरेगा। इन विमानों की दहाड़ उन लोगों के लिए भी होगी जिन्होंने दशकों तक देश के रक्षा बुनियादी ढांचे की अनदेखी की।

उन्होंने कहा कि गरीबों को पक्के घर मिलें, गरीबों के घर में शौचालय हों, महिलाओं को खुले में शौच के लिए बाहर ना जाना पड़े, सबके घर में बिजली हो, ऐसे कितने ही काम थे, जो यहां किए जाने जरूरी थे। लेकिन मुझे बहुत पीड़ा है, कि तब यूपी में जो सरकार थी, उसने मेरा साथ नहीं दिया। मुझे मालूम था कि जिस तरह तब की सरकार ने यूपी के लोगों के साथ नाइंसाफी की जा रही है, विकास में भेदभाव किया जा रहा है, जिस तरह सिर्फ अपने परिवार का हित साधा जा रहा है, यूपी के लोग ऐसा करने वाली सरकार को हमेशा-हमेशा के लिए यूपी के विकास के रास्ते से हटा देंगे। 

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर 3.2 किलोमीटर लंबे आपातकालीन लैंडिंग फील्ड पर जगुआर विमान टच एंड गो लैंडिंग करता है। मध्यम परिवहन विमान एएन-32 भी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की 3.2 किलोमीटर लंबी हवाई पट्टी पर उतरा। मिराज 2000 भी हवाई पट्टी पर उतरा। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर