कोरोना पर मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के बाद PM मोदी बोले, दवाई के साथ कड़ाई भी जरूरी

कोविड-19 की स्थिति पर पीएम के साथ मुख्यमंत्रियों की बुधवार को ऑनलाइन बैठक हुई। इस बैठक के बाद पीएम ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए दवाई के साथ कड़ाई की जरूरत है।

PM Modi's meet with CMs over Covid begins; Mamata, Bhupesh Baghel not in attendance
कोरोना की स्थिति पर PM मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक जारी।  |  तस्वीर साभार: PTI

नई दिल्ली : देश में कोरोना महामारी की स्थिति पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल बैठक हुई। इस बैठक के बाद प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए दवाई के साथ-साथ कड़ाई की भी जरूरत है। पीएम के साथ मुख्यमंत्रियों की यह वर्चुअल बैठक ऐसे समय हुई है, जब कई राज्यों में कोरोना वायरस ने नए सिरे से अपना सिर उठाया है। इस बीच, दक्षिण अफ्रीका में पाए गए कोरोना के प्रकार से दिल्ली में पहली मौत होने की खबर है। केंद्र की एक टीम ने महाराष्ट्र में कोरोना की नई लहर की 'शुरुआत' को लेकर चेतावनी दी है। बुधवार को कोरोना के नए मामलों के जो आंकड़े आए वह डराने वाले हैं। 

Covid-19 की स्थिति पर पीएम की वर्चुअल बैठक Updates

'दवाई भी और कड़ाई भी' 
पीएम ने कहा कि कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं लेकिन लोगों को डराने की जरूरत नहीं है। हमें जनता को परेशानी से मुक्ति दिलानी है। पीएम ने कहा कि हमें ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। टेस्टिंग बढ़ाने की आवश्यकता है। पीएम ने कहा कि 70 जिलों में कोरोना के नए मामलों में 150 प्रतिशत का उछाल आया है। हमारे पास वैक्सीन आ गई है लेकिन मास्क सहित कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने की जरूरत है। पीएम ने कहा कि कोरोना वैक्सीन को हमें बर्बाद नहीं होने देना है।

बैठक में सीएम योगी, ममता और बघेल उपस्थित नहीं
कोविड-19 की स्थिति पर पीएम के साथ मुख्यमंत्रियों की ऑनलाइन बैठक शुरू हो गई है। इस बैठक में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल उपस्थित नहीं है। समझा जाता है कि पश्चिम बंगाल में अपने चुनावी कार्यक्रमों की व्यस्तता की वजह से ममता और योगी आदित्यनाथ इस बैठक में शरीक नहीं हो रहे हैं। 

बीते 3 महीने में एक दिन में सबसे ज्यादा केस
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की बुधवार की रिपोर्ट में कहा गया कि पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 28, 903 नए केस सामने आए जबकि 17,741 लोग ठीक हुए। यह 2021 में एक दिन का सर्वाधिक आंकड़ा है। बीते 24 घंटे में इस महामारी से 188 लोगों की जान गई। इसके साथ ही देश में कोरोना संक्रमण की कुल संख्या बढ़कर 1, 14,38, 734 हो गई। 

71.10 प्रतिशत पांच राज्यों से नए मामले
देश में एक दिन में सामने आए कोविड-19 के 28,903 नए मामलों में 71.10 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु से हैं।
केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, नए मामलों से 83.91 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब, गुजरात, तमिलनाडु और केरल से हैं।
मंत्रालय ने बताया कि नए मामलों से केवल महाराष्ट्र के ही 61.8 प्रतिशत मामले हैं, जहां 24 घंटे में 17,864 नए मामले सामने आए। वहीं, केरल में 1,970 और पंजाब में 1,463 नए मामले सामने आए। देश में अभी उपचाराधीन मरीजों की संख्या 2,34,406 हो गई ,जो कुल मामलों का 2.05 प्रतिशत है। मंत्रालय ने कहा, ‘कुल उपचाराधीन मामलों में से महाराष्ट्र, केरल और पंजाब के 76.4 प्रतिशत मामले हैं। केवल महाराष्ट्र के ही 60 प्रतिशत मामले हैं।’

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर