पहले UP में अपराधी अपना खेल खेलते थे, अब योगी जी की सरकार ऐसे अपराधियों के साथ जेल-जेल खेल रही है: PM मोदी

उत्तर प्रदेश के मेरठ में मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मेरठ मेजर ध्यानचंद का 'कर्मस्थल' था। केंद्र ने देश के सबसे बड़े खेल पुरस्कार का नाम उनके नाम पर रखा और अब मेरठ का खेल विश्वविद्यालय मेजर ध्यानचंद जी को समर्पित किया जाएगा।

Narendra Modi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 
मुख्य बातें
  • पहले की सरकारों में चीनी मिलें कौड़ियों के दाम बेची जाती थी: मोदी
  • योगी जी की सरकार में जितना गन्ना किसानों को भुगतान किया गया है, उतना पिछली दोनों सरकारों के दौरान किसानों को नहीं मिला था: पीएम
  • नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी में खेल को प्राथमिकता दी गई है: PM मोदी

PM Modi in Meerut: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मेरठ में 700 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखी। इस दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने उत्तर प्रदेश की पहले की सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले की सरकारों में यूपी में अपराधी अपना खेल खेलते थे, माफिया अपना खेल खेलते थे। पहले यहां अवैध कब्जे के टूर्नामेंट होते थे, बेटियों पर फब्तियां कसने वाले खुलेआम घूमते थे। अब योगी जी की सरकार ऐसे अपराधियों के साथ जेल-जेल खेल रही है। पांच साल पहले इसी मेरठ की बेटियां शाम होने के बाद अपने घर से निकलने से डरती थीं। आज मेरठ की बेटियां पूरे देश का नाम रौशन कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि यहां मेरठ के सोतीगंज बाजार में गाड़ियों के साथ होने वाले खेल का भी अब The End हो रहा है। अब यूपी में असली खेल में बढ़ावा मिल रहा है। यूपी के युवाओं को खेल की दुनिया में छा जाने का मौका मिल रहा है। युवा नए भारत का कर्णधार भी है, विस्तार भी है। युवा नए भारत का नियंता भी है, नेतृत्वकर्ता भी है। आज के युवाओं के पास प्राचीनता की विरासत भी है, आधुनिकता का बोध भी है। जिधर युवा चलेगा उधर भारत चलेगा और जिधर भारत चलेगा उधर ही अब दुनिया चलने वाली है। 

पीएम मोदी ने कहा कि खिलाड़ियों को चाहिए- संसाधन, खिलाड़ियों को चाहिए- ट्रेनिंग की आधुनिक सुविधाएं। खिलाड़ियों को चाहिए- अंतरराष्ट्रीय एक्सपोजर, खिलाड़ियों को चाहिए- चयन में पारदर्शिता। हमारी सरकार ने बीते वर्षों में भारत के खिलाड़ियों को ये चार शस्त्र जरूर मिलें, इसे सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। देश में खेलों के लिए जरूरी है कि हमारे युवाओं में खेलों को लेकर विश्वास पैदा हो, खेल को अपना प्रॉफेशन बनाने का हौसला बढ़े। यही मेरा संकल्प भी है, और सपना भी। मैं चाहता हूं कि जिस तरह दूसरे प्रॉफ़ेशन्स हैं, वैसे ही हमारे युवा स्पोर्ट्स को भी देखें।

बिना नाम लिए मुलायम सिंह पर साधा निशाना

समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव के एक बयान पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि सरकारों की भूमिका अभिभावक की तरह होती है। योग्यता होने पर बढ़ावा भी दे और गलती होने पर ये कहकर ना टाल दे कि लड़कों से गलती हो जाती है। आज योगी जी की सरकार, युवाओं की रिकॉर्ड सरकारी नियुक्तियां कर रही है। ITI से ट्रेनिंग पाने वाले हजारों युवाओं को बड़ी कंपनियों में रोजगार दिलवाया गया है। नेशनल अप्रेंटिसशिप योजना हो या फिर प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, लाखों युवाओं को इसका लाभ दिया गया है। जो नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी लागू हो रही है, उसमें भी खेल को प्राथमिकता दी गई है। स्पोर्ट्स को अब उसी श्रेणी में रखा गया है, जैसे साईंस, कॉमर्स या दूसरी पढ़ाई हो। पहले खेल को एक्स्ट्रा एक्टिविटी माना जाता था, लेकिन अब स्पोर्ट्स स्कूल में बाकायदा एक विषय होगा।

मेरठ में PM मोदी ने रखी मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की आधारशिला, 700 करोड़ की लागत से होगी तैयार

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर