PM Modi in UP: चित्रकूट में बोले PM मोदी- यूपी के किसान भाईयों के खातों में जमा हुए 12 हजार करोड़ रुपए

PM Modi in UP: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रयागराज व चित्रकूट के दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने एक जनसभा को भी संबोधित किया। जानिए यहां उन्होंने क्या कहा-

PM Modi in chitrakoot
चित्रकूट में बोले पीएम नरेंद्र मोदी  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूपी में प्रयागराज व चित्रकूट के दौरे पर हैं
  • इस दौरान उन्होंने जनसभा को भी संबोधित किया
  • बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का शिलान्यास करने पहुंचे थे पीएम मोदी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय उत्तर प्रदेश के प्रयागराज व चित्रकूट के दौरे पर हैं। चित्रकूट में उन्होंने एक सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस वर्ष के बजट में भी अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये है, जिनका लाभ किसानों को होगा। किसानों की आय बढ़ाने के लिये 16 सूत्री एक कार्यक्रम बनाया गया है।

उन्होंने आगे कहा कि चित्रकूट सहित पूरे उत्तर प्रदेश के करीब दो करोड़ से ज्यादा किसान परिवारों के खातों में भी करीब 12 हजार करोड़ जमा हुये है। आपने दशकों में वे दिन भी देखे है जब बुंदेलखंड और किसानों के नाम पर हजारों करोड़ रुपये के पैकेज घोषित होते थे, लेकिन किसान की जेब तक कुछ नहीं पहुंचता था, अब दिल्ली से जारी होने वाली पाई पाई उसके हकदार तक पहुंच रही है।

 

 

थोड़ी देर पहले ही यहां देश के किसानों की आय बढ़ाने और उन्हें सशक्त करने के लिये 10 हजार एफपीओ यानि किसान उत्पादक संगठन बनाने की योजना शुरू की गयी है, किसान अब तक उत्पादक ही था और अब वह एफपीओ के माध्यम से व्यापार भी करेगा।

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे की रखी आधारशिला
लगभग 15 हजार करोड़ रुपये की लागत से बनने वाला बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे यहां रोजगार के हजारों अवसर मुहैया कराएगा और यहां के सामान्य जन को बड़े-बड़े शहरों जैसी सुविधा से जोड़ेगा। करीब 15 हजार करोड़ रुपये की लागत से बनने वाला बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे यहां रोजगार के हजारों अवसर पैदा करेगा और यहां के सामान्य जन को बड़े शहरों जैसी सुविधा से जोड़ेगा।

इससे यूपी के डिफेंस कॉरीडोर को भी मिलेगी रफ्तार
इस साल के बजट में यूपी डिफेंस कॉरिडोर के लिए 3,700 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे से यूपी डिफेंस कॉरिडोर को भी गति मिलने वाली है। पहले एक्सप्रेसवे महानगरों में देखने को मिलते थे, अब छोटे शहरों के लोग भी आधुनिक एक्सप्रेसवे का लाभ उठा पाएंगे।

रोजगार के अवसर होंगे उपलब्ध
बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे हो, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे हो या फिर प्रस्तावित गंगा एक्सप्रेस-वे, ये यूपी में कनेक्टिविटी तो बढ़ाएंगे ही, रोज़गार के भी अनेक अवसर तैयार करने वाले हैं। आने वाले पांच वर्ष में देश के लगभग 15 करोड़ परिवारों तक शुद्ध पीने का पानी पहुंचाने के संकल्प के लिए काम तेजी से शुरू हो चुका है।

इतने करोड़ खर्च करेगी सरकार
इसमें भी प्राथमिकता आकांक्षी जिलों को दी जा रही है। 296 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस चित्रकूट, बांदा, हमीरपुर और जालौन जिलों से गुजरेगा जो आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे और यमुना एक्सप्रेस-वे से जोड़ेगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर सरकार 14849.09 करोड़ रुपये खर्च करेगी।  

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर