महबूबा मुफ्ती ने कहा- तालिबान अब एक हकीकत, असली शरिया से शासन करें जिसमें महिलाओं के अधिकार शामिल हैं

महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि तालिबान एक हकीकत के रूप में उभर रहा है। वे दुनिया के लिए एक उदाहरण स्थापित कर सकते हैं यदि वे वास्तविक शरिया कानून का पालन करते हैं जिसमें महिला अधिकार शामिल हैं।

Mehbooba Mufti
महबूबा मुफ्ती 

नई दिल्ली: पीडीपी प्रमुख और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को कहा कि तालिबान अब एक वास्तविकता है। उन्होंने आगे कहा कि तालिबान को 'असली शरिया' कानून के तहत अफगानिस्तान पर शासन करना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि तालिबान अब एक वास्तविकता बन गया है। उन्हें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनकी पहले की छवि मानवता और बुनियादी अधिकारों के खिलाफ थी। अब अगर वे अफगानिस्तान पर शासन करना चाहते हैं, तो उन्हें वास्तविक शरिया नियमों का पालन करना चाहिए जिसमें महिलाओं के अधिकार शामिल हैं, वे नहीं जो वो कहते हैं। तभी वे अन्य देशों के साथ संबंध बना सकते हैं। 

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले के अखरान गांव में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि लेकिन अगर वे (तालिबान) वह करते हैं जो उन्होंने 90 के दशक में किया था, तो यह न केवल अफगानिस्तान के लिए बल्कि पूरी दुनिया के लिए भी मुश्किल होगा। महबूबा मुफ्ती ने आगे कहा कि अगर तालिबान वास्तविक शरिया को अपनाता है, जहां महिलाओं सहित सभी के लिए अधिकार निर्दिष्ट हैं, तो वे दुनिया के लिए एक उदाहरण बन सकते हैं।

वहीं नेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने श्रीनगर में संवाददाताओं से कहा कि उन्हें उम्मीद है कि तालिबान 'इस्लामी सिद्धांतों' के अनुसार 'सुशासन' प्रदान करेगा। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर