कोरोना बनी थी दीवार, लाहौर से हिंदुस्तान पहुंची लड़की; रिश्तेदार से अब होगी शादी

India-Pakistan: शुमैला और कमल ने साल 2018 में सगाई कर ली थी और वो साल 2020 में शादी करने वाले थे, लेकिन कोरोनो के कारण शादी नहीं हो सकी।

Pakistani woman reached India with family will marry a distant relative in Jalandhar
शादी के लिए परिवार संग भारत पहुंची पाकिस्तानी महिला।  |  तस्वीर साभार: Times of India
मुख्य बातें
  • शादी के लिए परिवार संग भारत पहुंची पाकिस्तानी महिला
  • दोनों परिवारों ने तय की शादी
  • 2018 में हुई थी सगाई

India-Pakistan: पाकिस्तान के लाहौर की रहने वाली शुमैला भारत के पंजाब के जालंधर के अपने दूर के रिश्तेदार कमल कल्याण से शादी करने के लिए पूरी तरह तैयार है। वह बुधवार को अपने परिवार के सदस्यों और रिश्तेदारों के साथ सीमा पार की सभी बाधाओं और दूसरे मुद्दों को पार कर भारत पहुंचीं। शुमैला ने अपने परिवार के सदस्यों और रिश्तेदारों के साथ इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट अटारी के माध्यम से भारत में एंट्री की, जहां दूल्हा कमल कल्याण और उसका परिवार के सदस्यों ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया।

शादी के लिए परिवार संग भारत पहुंची पाकिस्तानी महिला

5 जुलाई का इतिहास: 45 साल पहले पाकिस्तान में सेना ने किया तख्तापलट, जुल्फीकार अली भुट्टो को सत्ता से हटाया

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक शुमैला और कमल ने साल 2018 में सगाई कर ली थी और वो साल 2020 में शादी करने वाले थे, लेकिन कोरोनो के कारण शादी नहीं हो सकी। ये पूछे जाने पर कि वह भारत में कैसा महसूस करती हैं, इस पर शुमैला ने कह कि मैं बहुत अच्छा महसूस कर रही हूं और ऐसा लगता है कि मैं अपने लोगों के साथ हूं न कि अजनबियों के साथ। मेरे लिए कोई नया नहीं, सब मेरे हैं। शुमैली ने कहा कि यहां उसका बहू के रूप में नहीं बल्कि बेटी के रूप में स्वागत किया गया।

Pakistani Spies: राजस्थान में पकड़े गए तीन पाकिस्तानी जासूस, ISI को भेजते थे खुफिया जानकारियां

दोनों परिवारों ने तय की शादी

शुमैला ने आगे कहा कि कमल कल्याण के साथ उसकी शादी परिवार ने तय की थी और उसने बस वही किया जो उसके परिवार के सदस्यों ने उसे करने के लिए कहा था। शुमैला ने कहा कि मैं कमल से अक्सर चचेरे भाई के रूप में बात करती थी। हम अलग-अलग अवसरों पर वीडियो चैट भी करते थे। शुमैला ने कहा कि जब वह लाहौर में थी, तब उसके दोस्तों के सर्कल में पार्टी का समय चल रहा था और जब वह पड़ोसी देश छोड़ रही थी तो उसके लगभग सभी दोस्त वाघा (पाकिस्तान सीमा) पर उसे देखने आए थे। जालंधर में एक कार बाजार के मालिक कमल ने कहा कि मैंने वही किया जो मेरे पिता और परिवार के अन्य सदस्यों ने तय किया था।


 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर