पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा का निधन, पीएम मोदी बोले- संगीत जगत के लिए अपूरणीय क्षति

पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा का निधन हो गया है। वह 70 वर्ष के थे। रविवार को दिल्‍ली के सेंट स्‍टीफेंस अस्‍पताल में हार्ट अटैक से उनका निधन हो गया

पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा का निधन
पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा का निधन 

नई दिल्‍ली : पद्म भूषण पंडित राजन मिश्रा का निधन हो गया है। वह 70 वर्ष के थे। रविवार को दिल्‍ली के सेंट स्‍टीफेंस अस्‍पताल में हार्ट अटैक से उनका निधन हो गया। हृदय रोग संबंधी परेशानियों के कारण उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बनारस घराने से जुड़े पंडित राजन मिश्रा के निधन पर दुख जताया है और इसे संगीत जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति करार दिया।

पंडित राजन मिश्रा के निधन पर शोक जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'शास्त्रीय गायन की दुनिया में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले पंडित राजन मिश्र जी के निधन से अत्यंत दुख पहुंचा है। बनारस घराने से जुड़े मिश्र जी का जाना कला और संगीत जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति है। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं। ओम शांति!'

भारत के प्रसिद्ध गायक राजन मिश्रा को कला के क्षेत्र में अद्वितीय योगदान के लिए 2007 में पद्म भूषण से सम्‍मानित किया गया था। बनारस घराने से जुड़े राजन मिश्रा अपने भाई साजन मिश्रा के साथ संगीत प्रस्‍तुति दिया करते थे। संगीत प्रस्‍तुति से दोनों भाइयों ने पूरी दुनिया में खूब प्रसिद्धी हासिल की।

दोनों भाइयों का प्रकृति से सानिध्‍य रहा और मानना रहा कि मनुष्‍य का शरीर जिस तरह पांच तत्‍वों से मिलकर बना है, उसी तरह संगीत के सात सुर 'सा, रे, गा, मा, पा, धा, नी' पशु-पक्षियों की आवाज से बने हैं।

दोनों भाइयों ने जर्मनी, फ्रांस, स्विट्जरलैंड, ऑस्ट्रिया, संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका, ब्रिटेन, नीदरलैंड्स, पूर्व सोवियत संघ, सिंगापुर, कतर, बांग्‍लादेश सहित दुनिया के कई देशों में संगीत प्रस्‍तुति दी थी। संगीत के क्षेत्र में दोनों भाइयों की जोड़ी खूब प्रसिद्ध थी।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर