भाजपा के 40 साल: ऐतिहासिक रही शून्य से शिखर तक की यात्रा, इस तरह बदला पार्टी का स्वरूप

देश
किशोर जोशी
Updated Apr 06, 2020 | 09:25 IST

देश की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के गठन हुए आज 40 साल पूरे हो गए हैं। इस अवसर पर पीएम मोदी सहित पार्टी के तमाम नेताओं ने कार्यकर्ताओं को शुभकामनाएं दी हैं।

 On 40th foundation day, BJP expresses gratitude to founding members, workers
भाजपा के 40 साल: ऐतिहासिक रही शून्य से शिखर तक की यात्रा 

मुख्य बातें

  • आज से ठीक 40 साल पहले हुई थी भारतीय जनता पार्टी की स्थापना
  • 40 साल पूरे होने पर पीएम मोदी ने पार्टी कार्यकर्ताओं और देशवासियों को शुभकामनाएं दी
  • चालीस 40 के इतिहास में पार्टी ने शून्य से शिखर तक की ऐतिहासिक यात्रा की

नई दिल्ली: देश की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी (BJP) के गठन के आज 40 ऐतिहासिक साल पूरे हो गए हैं। इस दौरान पार्टी ने शून्य से शिखर तक का जो सफर तय किया है वो कई मायनों में ऐतिहासिक रहा है। अटल युग से मोदी युग तक पार्टी के स्वरूप में कई बदलाव आए हैं। इस मौके पर पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित पार्टी के तमाम नेताओं ने कार्यकर्ताओं और देशवासियों को शुभकामनाएं दी है।

1980 में हुआ गठन
यूं तो भारतीय जनता पार्टी का गठन 1980 में हुआ लेकिन 1951 में ही श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने कांग्रेस से अलग होकर जनसंघ की नींव रखी थी और 1952 में हुए लोकसभा चुनाव में जनसंघ को केवल तीन सीटें हासिल हुईं थी। इसके बाद जनसंघ ने एक लंबे समय तक संघर्ष किया। इंदिरा गांधी द्वारा लगाए गए आपातकाल के दौरान जनसंघ का संघर्ष और मुखर हुआ इसके बाद जनता पार्टी बनाई। 6 अप्रैल, 1980 में जनसंघ द्वारा बीजेपी का गठन किया गया।

इस तरह मजबूत होती गई पार्टी

 पार्टी के गठन के बाद 1984 में जब पहला चुनाव हुआ तो पार्टी को महज 2 ही सीटें मिल पाईं थी। इसके बाद पार्टी ने अपनी रणनीति में बदलाव किया। 1989 में पार्टी को 85 सीटें मिलीं। 1991 में जब राम मंदिर का मामला सुर्खियों में था तो पार्टी को 120 मिल गईं। लगातार अपने जनाधार को मजबूत करती रही बीजेपी को 1996 में 161 तो 1998 में 182 सीटें मिली। इसके बाद अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में गठबंधन की सरकार बनी। लेकिन अपने बूते पर पार्टी ने पहली बार 2014 में इतिहास रचते हुए 282 सीटें हासिल की और 2019 में तो 300 का आंकड़ा पार कर लिया।

18 करोड़ सदस्य
6 अप्रैल 1980 को 10 सदस्यों के साथ शुरू हुई बीजेपी के पास आज लगभग 18 करोड़ से ज्यादा सदस्य हैं। तब अटल बिहारी वाजपेयी, लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और विजयाराजे सिंधिया जैसे नेताओं ने मिलकर पार्टी की नींव रखी थी। आज 15 से ज्यादा राज्यों में या तो खुद की या फिर गठबंधन की सरकार है। 2014 लोकसभा चुनाव के बाद पार्टी का जो स्वर्णिम दौर चला वो अभी तक जारी है। पार्टी के पास वर्तमान में 303 लोकसभा सांसद हैं। बीजेपी का दावा है कि वह दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है।

मोदी जैसे लोकप्रिय नेता

आज पार्टी के पास नरेंद्र मोदी जैसा सर्वाधिक लोकप्रिय नेता है जिनकी लोकप्रियता भारत ही नहीं दुनिया में भी है। वहीं पार्टी के पास चाणक्य के नाम से मशहूर पूर्व अध्यक्ष अमित शाह जैसे नेता हैं जिनके नेतृत्व में पार्टी ने कई राज्यों में सरकार बनाई और 2019 में ऐतिहासिक सफलता हासिल कीं।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर