Dhamanagar By Election Result 2022: धामनगर विधानसभा उपचुनाव का रविवार को आएगा रिजल्ट, यहां मिलेगा पल-पल का अपडेट

देश
शिशुपाल कुमार
शिशुपाल कुमार | Principal Correspondent
Updated Nov 05, 2022 | 16:39 IST

Odisha Dhamanagar By Election Result 2022: धामनगर ओडिशा का एक विधानसभा क्षेत्र है। 2019 में, यह निर्वाचन क्षेत्र भारतीय जनता पार्टी द्वारा जीता गया था। ओडिशा राज्य के भद्रक जिले के अंतर्गत धामनगर सीट आती है।

 Dhamanagar By Election Result 2022, Check Dhamanagar Vidhan Sabha Chunav Result Live
धामनगर विधानसभा उपचुनाव का रविवार को आएगा रिजल्ट  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • बीजेपी विधायक के निधन के बाद इस सीट पर हो रहा उपचुनाव
  • बीजेपी की प्रतिष्ठा लगी है दांव पर
  • इस सीट पर पांच उम्मीदवार हैं चुनावी मैदान में

Odisha Dhamanagar By Election Result 2022: ओड़िशा के धामनगर सीट पर हुए उपचुनाव का कल यानि कि रविवार (6 November 2022) को रिजल्ट आएगा। इस सीट पर बीजेपी और बीजद की सीधी लड़ाई है। आप धामनगर उपचुनाव का रिजल्ट चुनाव आयोग की वेबसाइट https://eci.gov.in/  पर लाइव देख सकते हैं।

2019 में भारतीय जनता पार्टी के विष्णु चरण सेठी ने बीजू जनता दल के राजेंद्र कुमार दास को 4625 मतों के अंतर से हराकर सीट जीती थी। विष्णु चरण सेठी के निधन होने की वजह से इस सीट पर उपचुनाव हो रहा है। जहां बीजेपी अपनी इस सीट पर फिर से जीत दर्ज करने की कोशिश में लगी थी, वहीं बीजद इस सीट को बीजेपी से छिनने की कोशिश कर रही है। बीजेपी ने यहां से विष्णु चरण सेठी के बेटे को उम्मीदवार बनाया है, ताकि सहानुभूति वोट उसे मिल सके।

धामनगर उपचुनाव के लिए पांच प्रत्याशी मैदान में हैं।

  1. अबंती दास - बीजू जनता दल (बीजद)
  2. सूर्यवंशी सूरज - भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)
  3. बाबा हरेकृष्ण सेठी - कांग्रेस
  4. राजेंद्र दास - निर्दलीय (बीजद के पूर्व विधायक)
  5. अनवर शेख - आम आदमी पार्टी (आप)

इस सीट पर एक रिकॉर्ड रहा है कि जब भी उपचुनाव में मृतक विधायक के परिवार वाले चुनावी मैदान में उतरे हैं, उन्होंने जीत हासिल की है।इस सीट पर मुस्लिम और किसान वोट हमेशा से निर्णायक रहे हैं। 1961 और 1990 में दो विधानसभा उपचुनाव देखे हैं, और दोनों में, मृतक विधायक के बेटे या पत्नी ने उपचुनाव जीता है।

धामनगर में पहला उपचुनाव 1961 में हुआ था जब तत्कालीन कांग्रेस विधायक मुरलीधर जेना की मृत्यु हो गई थी और उसके बाद हुए उपचुनाव में उनकी पत्नी सत्यभामा देई चुनी गई थीं। दूसरा उपचुनाव 1990 में हुआ था जब नवनिर्वाचित धामनगर विधायक हृदानंद मलिक की विजय जुलूस के दौरान मृत्यु हो गई थी। तब उनके बेटे मानस रंजन मल्लिक ने सीट जीती।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर