Unnao: अब आपस में ही भिड़ा उन्नाव पीड़िता का परिवार, वजह जानकर आपको भी होगी हैरानी

देश
किशोर जोशी
Updated Feb 25, 2021 | 12:14 IST

उन्नाव कांड में मृतक लड़कियों को दी जाने वाली सहायता राशि को लेकर अब घर में ही घमासान छिड़ गया है और परिवार अब सरकार से अलग मांग कर रहा है।

Now the family of Unnao's victim fighting amongst themselves about the financial assistance
अब आपस में भिड़ा उन्नाव पीड़िता का परिवार, जानिए वजह 

मुख्य बातें

  • उन्नाव कांड की पीड़िता के परिवार में सहायता राशि को लेकर झगड़ा
  • परिवार के लोग एक दूसरे पर लगा रहे हैं आरोप
  • पीड़िता के पिता को दिया है सरकारी आर्थिक मदद वाला चैक

लखनऊ:  उन्नाव जिले के असोहा क्षेत्र में पिछले हफ्ते दो मृत लड़कियों के परिवार में अब घमासान छिड़ गया है। दरअसल यह घमासान परिवार को सरकार की तरफ से मिलने वाली सहायता राशि को लेकर छिड़ा हुआ है। परिवार के लोग अपने- अपने लिए अलग से सहायता राशि की मांग करने लगे हैं। इसके लिए मृतका की मां से लेकर उसके बाबा तक अपने- अपने लिए सहायता राशि मांग रहे हैं। खबर की मानें तो आर्थिक राशि को लेकर परिवार में घमासान छिड़ा हुआ है और एक-दूसरे को मारने-मरने की धमकी दी जा चुकी है। 

बाबा और मां की मांग

दरअसल, सरकार की तरफ से उन्नाव की मृतक पीड़िताओं के परिवार को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद दी गई है। यह राशि मृतका के पिता को अधिकारियों द्वारा पांच लाख रुपये के चैक के रूप में दी गई है। अब मृतका के बाबा ने किया उन्होंने ही लड़की को पाल-पोषकर बड़ा किया और वह उन्हीं के पास रहती थी लिहाजा आर्थिक मदद की आधी राशि उनके खाते में डाली जाए।  वहीं मृतका की मां ने डीएम को खत लिखकर पति को नशेड़ी बताया है और आर्थिक सहायता राशि खुद के खाते में भेजने की मांग की है।

मृतका की मां के आरोप
मृतका की मां ने आरोप लगाया है कि उसके पति को नशे की लत है और उसकी मानसिक हालत भी ठीक नहीं है। मां ने डीएम को लिखे शिकायती पत्र में कहा है कि आर्थिक मदद मिलने के बाद पति दूसरे घर में रहने लगा है और परिवार से उसने नाता तोड़ लिया है। मां ने कहा है कि चार बेटों के अलावा एक बेटी तथा बहू की जिम्मेदारी भी उसके कांधों पर है लिहाजा पति को मिली आर्थिक मदद को उसके खाते में ट्रांसफर किया जाए तांकि उसे मदद मिल सके।

एकतरफा प्रेम के चलते हुई थी हत्या

आपको बता दें कि उन्नाव जिले के असोहा थाना क्षेत्र स्थित बबुरहा गांव में पिछली 17 फरवरी को खेत से चारा काटने गई तीन लड़कियां संदिग्ध परिस्थितियों में बेहोश पाई गई थीं। उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उनमें से दो को मृत घोषित कर दिया था। तीसरी लड़की को कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। पुलिस ने 19 फरवरी को इस मामले में आरोपी विनय कुमार तथा उसके एक नाबालिग साथी को गिरफ्तार कर मामले के खुलासे का दावा किया था। पुलिस के मुताबिक विनय ने यह वारदात एक तरफा प्रेम की वजह से अंजाम दी थी।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर