भारतीय फौज की हिम्मत को कोई बाधा तोड़ नहीं सकती, सीडीएस बिपिन रावत का चीन को संदेश

देश
ललित राय
Updated Jan 02, 2021 | 17:45 IST

सीडीएस बिपिन रावत ने अपने कार्यकाल के एक साल पूरा होने पर चीन से लगी अग्रिम सैन्य चौकियों का दौरा किया और कहा कि भारतीय फौज सर्वस्व न्योछावर के लिए तैयार रहती है।

भारतीय फौज की हिम्मत को कोई बाधा तोड़ नहीं सकती, सीडीएस बिपिन रावत का चीन को संदेश
सीडीएस बिपिन रावत ने चीन को दिया संदेश 

मुख्य बातें

  • सीडीएस के तौर पर बिपिन रावत के कार्यकाल के एक साल पूरे
  • अरुणाचल प्रदेश में चीन सीमा से लगी सैन्य पोस्ट का सीडीएस ने किया दौरा
  • सीडीएस बिपिन रावत बोले, भारतीर फौज के जज्बे को कोई भी बाधा नहीं तोड़ सकती

नई दिल्ली। चीफ ऑफ डिफेंस बिपिन रावत ने कार्यकाल के एक साल पूरा होने पर कहा कि हमारी फौज के हौसले इतने बुलंद है कि उनकी राह में कोई बाधा आ ही नहीं सकती है। वो चीन की सीमा से लगे अरुणाचल प्रदेश और असम में सैन्य चौकियों का दौर किया। बिपिन रावत ने कहा कि हमारी फौज दुनिया की पेशेवर सेना है, सबसे बड़ी बात यह है कि हम सब अपने फर्ज के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

बिपिन रावत ने कहा कि प्रभावी निगरानी बनाए रखने और संचालन की तत्परता को बढ़ाने के लिए सैनिकों द्वारा अपनाए गए उपायों को देखने के बाद, जनरल रावत ने कहा, "केवल भारतीय सैनिक ऐसी चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में सतर्क रह सकते हैं जो सीमाओं की सुरक्षा के लिए ड्यूटी के आह्वान से परे जाने के इच्छुक हैं।

जानकार कहते हैं कि फौज की ताकत और उच्च मनोविज्ञान टॉप जरनल की सोच पर निर्भर करता है। पिछले साल चीन की गुस्ताखी का भारत ने जिस तरह से जवाब दिया उसकी उम्मीद चीन को नहीं रही होगी। यह बात सच है कि भारत और चीन के बीच तनाव पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है। लेकिन भारतीय तैयारियों के बाद चीन भी संयमित रवैया अपना रहा है। गलवान हिंसा के बाद जिस तरह से भारतीय फौज ने आक्रामक रुख अपनाया उसके बाद वैश्विक स्तर पर भारतीय तैयारियों के बारे में सोच बदली। भारत को सॉफ्ट नेशन या सॉफ्ट टारगेट की धारणा में बदलाव आया। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर