इसलिए पैसेंजर को पुलिस स्टेशन ले गया था ये उबर ड्राइवर, BJP ने किया सम्मानित

देश
लव रघुवंशी
Updated Feb 08, 2020 | 17:25 IST

Uber driver Rohit Singh: मुंबई में एक उबर ड्राइवर ने यात्री को नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के खिलाफ हो रहे विरोध-प्रदर्शनों पर बात करते हुए सुना तो वो उसे पुलिस स्टेशन ले गया।

Uber Driver Rohit Singh
उबर ड्राइवर रोहित सिंह 

नई दिल्ली: मुंबई भाजपा अध्यक्ष एमपी लोढा ने एक उबर ड्राइवर को सम्मानित किया है। दरअसल, उसने अपनी गाड़ी में बैठे कवि को फोन पर नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों पर बातचीत करते सुना और इसके बाद वो उन्हें सांताक्रूज पुलिस स्टेशन ले गया। इसी को लेकर भाजपा के कई स्थानीय नेताओं और कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में सांताक्रूज पुलिस स्टेशन के पास ड्राइवर को माला पहनाई गई।

पुलिस ने दोनों के बयान दर्ज किए लेकिन कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला। ये मामला 5 फरवरी का है। लोढा ने 'द इंडियन एक्सप्रेस' को बताया कि उन्होंने (ड्राइवर) एक सतर्क नागरिक का कर्तव्य निभाया है। इससे पहले कैब एग्रीगेटर ने ड्राइवर रोहित सिंह को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया था।

उबर ने मुंबई से राजस्थान लौटने वाले कवि बप्पादित्य सरकार को सूचित किया कि आपकी सुरक्षा ऐसी चीज है जिसे हम गंभीरता से लेते हैं और हम नहीं चाहेंगे कि आपको होने वाली असुविधा के लिए भुगतान करना पड़े। हम आपको सूचित करना चाहते हैं कि जब तक जांच चल रही है, हमने ड्राइवर को अस्थायी रूप से प्रतिबंधित कर दिया है। इसी बात की पुष्टि करते हुए सरकार ने बताया, 'उन्होंने (उबर) आज मुझे फोन किया और कहा कि ड्राइवर का खाता अस्थायी रूप से रोक दिया गया है। वे उस चार्ज को भी माफ कर रहे हैं जो यात्रा के लिए लगाया गया था।' 

5 फरवरी की रात को सरकार ने जुहू सिल्वर बीच से कुर्ला तक कैब बुक की थी। वाहन में बैठने के बाद उन्होंने जयपुर में एक दोस्त को फोन किया और नागरिकता कानून के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि हम अलग-अलग शहरों में विरोध संस्कृतियों के बारे में बात कर रहे थे, कल शाहीन बाग में क्या हुआ था, लोगों को लाल सलाम के साथ असुविधा हुई और हम जयपुर के विरोध को और अधिक प्रभावी कैसे बना सकते हैं।' 

सरकार ने कहा, 'कैब में बैठने के करीब 20 मिनट बाद ड्राइवर ने सांताक्रूज पुलिस स्टेशन के बाहर गाड़ी रोक दी और पास के एटीएम से पैसे निकालने की बात बोली। कुछ मिनटों के बाद वो दो कांस्टेबलों के साथ लौटा। उसने पुलिस से बोला कि ये (सरकार) देश जलाने की बात कर रहा है, बोल रहा है मैं कम्यूनिस्ट हूं, हम देश को शाहीन बाग बना देंगे, मेरे पास पूरी रिकॉर्डिंग है।' 

कवि ने बताया कि मैंने पुलिसकर्मियों से कहा कि वे रिकॉर्डिंग को सुनें और अगर मैंने ऐसा कुछ भी कहा है जो भड़काऊ हो या जिसे राष्ट्र विरोधी माना जा सकता है तो मुझे गिरफ्तार कर लें।

जब ड्राइवर से पूछा गया कि वो सरकार को पुलिस स्टेशन क्यों लाया तो उसने कहा, 'तुम देश बर्बाद कर दोगे और हम देखते रहेंगे? मैं कहीं और भी ले जा सकता था तुझे, शुक्र मनाओ पुलिस स्टेशन ले आया हूं।' इसके बाद पुलिस ने सरकार से पूछताछ की और देर रात उन्हें छोड़ा गया।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर