Air Pollution:दिल्ली-एनसीआर में नहीं थम रहा जहरीले वायु प्रदूषण का कहर, AAP सरकार की इमरजेंसी मीटिंग बुलाने की मांग

देश
रवि वैश्य
Updated Nov 09, 2021 | 06:20 IST

दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय ने राष्ट्रीय राजधानी में 'गंभीर' वायु प्रदूषण के मद्देनजर कहा है कि पराली जलाने के मुद्दे पर केंद्र को राज्यों की आपात बैठक बुलानी चाहिए।

delhi ncr air pollution
दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने भी बढ़ते एयर प्रदूषण पर अपनी चिंता जाहिर की है  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • शनिवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता में कुछ सुधार हुआ था
  • लेकिन यह अब भी 'गंभीर' श्रेणी में बनी हुई थी जिससे लोगों को दिक्कतें हो रही हैं
  • मंत्री गोपाल राय ने भी बढ़ते एयर प्रदूषण पर अपनी चिंता जाहिर की है

delhi ncr air pollution update: दिल्ली की वायु गुणवत्ता रविवार को भी 'गंभीर' श्रेणी में बनी रही और पराली जलाए जाने से होने वाले प्रदूषण की मात्रा 48 प्रतिशत तक पहुंच गयी। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के आंकड़ों के मुताबिक नगर का वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) रात आठ बजे 416 (गंभीर श्रेणी) रहा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी वायु प्रदूषण की स्थिति के बारे में ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट किया, '7 नवंबर - एक्यूआई - 428 (401 से 500 - गंभीर) पीएम10 - 450 (430 से ऊपर - गंभीर) पीएम2.5 - 309 (250 से ऊपर - गंभीर)।'

तेज हवाओं के कारण शनिवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता में कुछ सुधार हुआ था, लेकिन यह अब भी 'गंभीर' श्रेणी में बनी हुई थी क्योंकि शहर के 'पीएम2.5' प्रदूषण में पराली जलाने का हिस्सा इस मौसम के उच्चतम स्तर 41 प्रतिशत तक पहुंच गया था। शुक्रवार को एक्यूआई 462 दर्ज किया गया था।

इमरजेंसी मीटिंग बुलाने के लिए केंद्रीय पर्यावरण मंत्री को लेटर

दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने भी बढ़ते एयर प्रदूषण पर अपनी चिंता जाहिर की है उन्होंने केंद्र से इमरजेंसी मीटिंग बुलाने की मांग की है, उन्होंने पराली जलाने पर हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, राजस्थान राज्यों के साथ आपात बैठक बुलाने के लिए केंद्रीय पर्यावरण मंत्री को पत्र लिखा है उसमें लिखा है कि हमें दिल्ली में पूसा बायो डीकंपोजर की तरह पराली जलाने के स्थायी समाधान की जरूरत है।

 

संडे को जारी आंकड़ों के अनुसार पराली से होने वाला प्रदूषण की हिस्सा 48 प्रतिशत के उच्चतम स्तर तक पहुंच गया है। सीपीसीबी के आंकड़ों के अनुसार रविवार को आनंद विहार में एक्यूआई 424 (गंभीर श्रेणी), ओखला फेज - दो 425 (गंभीर), आर के पुरम 'खराब' श्रेणी और रोहिणी में 446 (गंभीर) दर्ज किया गया।'AQI अगले दो दिनों में यह बहुत खराब से गंभीर श्रेणी के बीच रहेगा'

शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को 'अच्छा', 51 से 100 के बीच को 'संतोषजनक', 101 से 200 को 'मध्यम', 201 से 300 को 'खराब', 301 से 400 के बीच 'बहुत खराब' और 401 से 500 को 'गंभीर' माना जाता है। 'सफर मॉडल' के अनुसार सात नवंबर की शाम से एक्यूआई में सुधार होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि एक्यूआई में सुधार होने का अनुमान है, लेकिन अगले दो दिनों में यह बहुत खराब से गंभीर श्रेणी के बीच रहेगा। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि रविवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर