MP, यूपी में क्यों नहीं पड़ रहे छापे, CBI के अधिकारियों के कोरोना हो गया है क्या?, ममता का सवाल 

देश
आलोक राव
Updated Apr 02, 2021 | 15:58 IST

West Bengal Polls 2021 : ममता बनर्जी ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, 'मुझे पता है कि मैं चुनाव जीत रही हूं लेकिन मेरे साथ तृणमूल के उम्मीदवार नहीं जीतेंगे तो सरकार बनाने के लिए नंबर नहीं होगा।

Mamata Banerjee asks why no raids in MP, UP, are CBI officials fear corona?
कूच बिहार में ममता ने अमित शाह पर निशाना साधा।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • दूसरे चरण का मतदान संपन्न होने के बाद ममता बनर्जी ने भाजपा पर बोला तीखा हमला
  • टीएमसी प्रमुख का आरोप-बंगाल में ईसी नहीं अमित शाह की देखरेख में हो रहा चुनाव
  • ममता ने कहा कि नंदीग्राम सीट पर वह जीत दर्ज करेंगी, इस सीट पर गुरुवार को हुई वोटिंग

कूच बिहार (पश्चिम बंगाल) : बंगाल में दूसरे चरण का मतदान संपन्न हो जाने के बाद तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को भाजपा एवं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर तीखा हमला बोला। ममता ने आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य में चुनाव ईसी नहीं बल्कि शाह करा रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि तमिलनाडु के डीएमके के नेताओं से उनकी बात हुई है। इन नेताओं का कहना है कि गृह मंत्री के इशारे पर उनके नेताओं के यहां छापे पड़ रहे हैं। ममता ने पूछा कि ये छापे भाजपा शासित राज्यों मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार में क्यों नहीं पड़ रहे हैं। ममता ने पूछा कि क्या सीबीआई और आईटी के अधिकारियों को इन राज्यों में कोरोना हो गया है?

नंदीग्राम सीट पर जीत रही हूं-ममता
बनर्जी ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, 'मुझे पता है कि मैं चुनाव जीत रही हूं लेकिन मेरे साथ तृणमूल के उम्मीदवार नहीं जीतेंगे तो सरकार बनाने के लिए नंबर नहीं होगा। नंबर 200 से ज्यादा यदि नहीं बढ़े तो मैं सरकार कैसे बनाऊंगी। यदि मेरी सरकार नहीं बनी तो कोई कन्याश्री, रूपाश्री, मुफ्त राशन, मुफ्त साइकिल और किसानों के लिए मुफ्त जमीन नहीं होगी।' ममता ने आरोप लगाया कि केंद्रीय बल बंगाल में भाजपा की मदद कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, 'हम सीआरपीएफ और बीएसएफ का सम्मान करते हैं लेकिन भाजपा के साथ मिलकर गांव वालों को डराना बंद करिए।'

टीएमसी छोड़कर जाने वाले नेताओं पर निशाना साधा
टीएमसी छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले नेताओं पर निशाना साधते हुए ममता ने कहा, 'भाजपा के पास अपने उम्मीदवार नहीं हैं। भगवा पार्टी ने तो या तो माकपा से अथवा टीएमसी के गद्दारों को अपना उम्मीदवार बनाया है। वे अब तक टीएमसी में थे लेकिन अपने पैसे बचाने के लिए भाजपा में शामिल हो गए। वे गद्दार हैं और वे अब सीआरपीएफ के साथ घूम रहे हैं। मुझसे लड़ने के लिए एक लाख से ज्यादा भाजपा के नेता राज्य का दौरा कर रहे हैं। उन्होंने होटलों, हवाई जहाज और कारों को किराए पर लिया है। यहां तक कि ये असम से नेता लेकर आए हैं। छह अप्रैल का चुनाव हो जाने के बाद असम से और नेता यहां आएंगे। आपको इन लोगों को यहां दाखिल नहीं होने देना है।'

बंगाल में छह अप्रैल को होगा तीसरे चरण का मतदान
बंगाल में 1 अप्रैल को दूसरे चरण का मतदान संपन्न हुआ। इस चरण में नंदीग्राम की हाई प्रोफाइल सीट पर भी वोटिंग हुई। इस सीट पर ममता बनर्जी का मुकाबला टीएमसी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए सुवेंदु अधिकारी से है। इस सीट पर रिकॉर्ड मतदान हुआ। बंगाल में दूसरे चरण में 80 प्रतिशत मतदान हुआ जबकि नंदीग्राम सीट पर रिकॉर्ड 87 फीसदी वोटिंग हुई। सुवेंदु अधिकारी का दावा है कि इस सीट पर ममता बनर्जी हार रही हैं जबकि टीएमसी का कहना है कि वह आसानी से इस सीट पर जीत दर्ज करेंगी। चर्चा यह भी है कि ममता अंतिम चरण में किसी अन्य सीट से चुनाव लड़ सकती हैं। हालांकि, टीएमसी ने इसे अफवाह बताकर खारिज किया है। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर