यूपी के महोबा में जिला अस्‍पताल का ऐसा हाल, सर्जिकल वार्ड में बेड पर रेंगते मिले कीड़े

Mahoba News: यूपी के महोबा में स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था की बदहाली सामने आई है, जहां जिला अस्‍पताल के सर्जिकल वार्ड में बेड पर कीड़े रेंगते मिले हैं।

यूपी के महोबा में जिला अस्‍पताल का ऐसा हाल, सर्जिकल वार्ड में बेड पर रेंगते मिले कीड़े
यूपी के महोबा में जिला अस्‍पताल का ऐसा हाल, सर्जिकल वार्ड में बेड पर रेंगते मिले कीड़े  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • यूपी के महोबा जिला अस्‍पताल में सर्जिकल वार्ड के बेड पर कीड़े रेंगते मिले हैं
  • जिला अस्‍पताल की यह स्थिति यहां स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था की बदहाली को बयां करती है
  • हालांकि अस्‍पताल प्रशासन ने वार्ड बॉय पर ठीकरा फोड़ अपनी जिम्‍मेदारियों से पल्‍ला झाड़ लिया है

महोबा : उत्‍तर प्रदेश के महोबा जिले में स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था किस कदर बदहाल स्थिति में है, इसका अंदाजा यहां के जिला अस्‍पताल की हालत को देखकर लगाया जा सकता है। जहां पूरे अस्‍पतालों में साफ-सफाई की बेहतर व्‍यवस्‍था की जरूरत होती है, वहीं सर्जिकल वार्ड में इसका और ख्‍याल रखना होता है, पर यहां सर्जिकल वार्ड की हालत ऐसी है कि बिस्‍तर पर कीड़े रेंगते नजर आए हैं।

अस्‍पताल के सर्जिकल वार्ड की यह हालत देखकर मरीज परेशान हैं, जो यहां इलाज कराने पहुंचते हैं। यहां की हालत देखकर तो यही लगता है कि अगर कोई स्‍वस्‍थ व्‍यक्ति यहां पहुंचता है तो वह भी किसी तरह के संक्रमण की चपेट में आ सकता है। यहां सर्जिकल वार्ड के बिस्‍तर पर कीड़े रेंगने की कई तस्‍वीरें भी सामने आई हैं, जो अस्‍पताल की बदहाली को बयां करते हैं।

वार्ड बॉय पर फोड़ा ठीकरा

इस बदहाल व्‍यवस्‍था के बावजूद अस्‍पताल प्रशासन ने वार्ड बॉय पर ठीकरा फोड़ अपनी जिम्‍मेदारियों से पल्‍ला झाड़ लिया है। मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी ने इसके लिए वार्ड बॉय को जिम्‍मेदार ठहराते हुए यहां तक कहा कि यह इस तरह की एकमात्र घटना है, अन्‍यथा अस्‍पताल साफ ही रहता है। उन्‍होंने कहा, 'यह एकमात्र ऐसी घटना है और वह भी वार्ड बॉय की लापरवाही के कारण हुआ। अन्‍यथा अस्‍पताल साफ रहता है।'

सीएमओ ने कहा कि उन्‍होंने वार्ड बॉय को चेतावनी दी है और इसे साफ करने को कहा है। यहां यह भी उल्‍लेखनीय है कि जिला अस्‍पताल में जल निकासी की उचित व्‍यवस्‍था नहीं होने की शिकायतें भी सामने आती रही हैं और लोगों का कहना है कि यहां हल्‍की बारिश से भी जलभराव हो जाता है। लेकिन अस्‍पताल प्रशासन ने अब तक इस दिशा में ठोस कदम नहीं उठाए।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर