उद्धव ठाकरे कैबिनेट का फैसला- औरंगाबाद का नाम संभाजी नगर, उस्मानाबाद का नाम बदलकर धाराशि रखा जाएगा

Maharashtra: उद्धव ठाकरे कैबिनेट ने औरंगाबाद का नाम संभाजी नगर और उस्मानाबाद का नाम बदलकर धाराशिव करने को मंजूरी दी है।

Uddhav Thackeray
उद्धव ठाकरे  
मुख्य बातें
  • महाराष्ट्र में औरंगाबाद शहर का नाम बदलकर संभाजीनगर करने को मंजूरी
  • उस्मानाबाद शहर का नाम धाराशिव किया जाएगा
  • नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे का नाम किसान नेता दिवंगत डीबी पाटिल के नाम पर रखने की मंजूरी

उद्धव ठाकरे कैबिनेट ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद का नाम बदलने का फैसला किया है। औरंगाबाद का नाम बदलकर संभाजी नगर रखा जाएगा। इसके अलावा महाराष्ट्र राज्य कैबिनेट ने उस्मानाबाद का नाम बदलकर धाराशिव करने को मंजूरी दी है। नवी मुंबई एयरपोर्ट का नाम बदलकर डीबी पाटिल इंटरनेशनल एयरपोर्ट किया जाएगा। 

पार्टी में बगावत के बाद अपनी सरकार के लिए खतरे का सामना कर रहे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इससे पहले मंगलवार को कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता की जिसमें औरंगाबाद शहर का नाम संभाजीनगर करने की मांग की गई। परिवहन मंत्री और शिवसेना नेता अनिल परब ने कहा कि उन्होंने मांग की कि औरंगाबाद शहर का नाम बदलकर संभाजीनगर कर दिया जाए। ठाकरे के करीबी सहयोगी परब ने कहा कि कल की कैबिनेट बैठक में एक प्रस्ताव लाया जाएगा। 

महाराष्ट्र के मंत्री और कांग्रेस नेता सुनील केदार ने कैबिनेट की बैठक के बाद कहा कि सीएम ने कहा कि हम उनके साथ अच्छा सहयोग करते हैं और वह भविष्य में भी हमसे इसी तरह के सहयोग की अपेक्षा करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि वह हमारे साथ भी ऐसा ही व्यवहार करेंगे। विधायक अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर सदन में वोट करते हैं। मुझे लगता है कि ढाई साल में हर विधायक ठाकरे सरकार के काम के बारे में जरूर सोचेगा। सीएम ने 2 साल तक कोरोना का मुकाबला किया और सभी ने इसकी सराहना की। उन्होंने दूसरे राज्यों के लोगों को भी भूखे नहीं रहने दिया। उद्धव ठाकरे को कोई पूर्व प्रशासनिक अनुभव नहीं था - उन्होंने कोरोना से मुकाबला किया। उनकी क्रिटिकल सर्जरी हुई थी। स्पाइनल सर्जरी कराने के एक महीने के भीतर किसने काम करना शुरू कर दिया है? मुझे एक नाम दो। इस आदमी ने ऐसा किया। यहां तक कि पीएम ने उनसे कहा कि उन्होंने ताकत दिखाई। अगर ऐसा आदमी धोखे का सामना करता है, तो हम जानना चाहेंगे कि क्या लोग इसके बारे में सोचेंगे?

Maharashtra: सुप्रिया सुले ने कहा- एकनाथ शिंदे के पास बहुमत संख्या नहीं, मुझे CM उद्धव ठाकरे पर बहुत गर्व है

एनसीपी नेता और महाराष्ट्र मंत्री जयंत पाटिल ने कहा कि सीएम ठाकरे ने कहा कि सभी 3 पार्टियां एक साथ आईं और 2.5 साल में अच्छा काम किया। उन्होंने सभी पार्टियों का आभार जताया। कल, विश्वास मत होगा और यह तय किया जाएगा कि यह अंत है या नहीं। सीएम उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि उन्हें कांग्रेस और एनसीपी का समर्थन मिला लेकिन दुर्भाग्य से उन्हें अपनी ही पार्टी (शिवसेना) के लोगों का समर्थन नहीं मिला।

उद्धव ठाकरे की बागी विधायकों से भावुक अपील- मुझे अभी भी आपकी चिंता, साथ बैठकर रास्ता निकालेंगे

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर