Madhya Pradesh: Dhar Dam में रिसाव जारी रहने के बाद सेना ने संभाला मोर्चा, खाली कराए गए 18 गांव

Dhar Dam: मध्य प्रदेश के धार डैम में लगातार हो रहे रिसाव के बाद अब शिवराज सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। विशेषज्ञों से सलाह के बाद डैम को पूरी तरह से खाली कराने का निर्णय लिया गया है।

Madhya Pradesh Army takes over after leakage continues in Dhar Dam 18 villages evacuated
रेस्क्यू ऑपरेशन की निगरानी कर रहे है सीएम शिवराज 
मुख्य बातें
  • मध्य प्रदेश में धार डैम से जुड़ी बड़ी खबर, बांध को पूरी तरह खाली किया जाएगा
  • 18 गांव के प्रभावित लोगों को राहत शिविरों में किया गया शिफ्ट
  • रेस्क्यू ऑपरेशन की निगरानी कर रहे है सीएम शिवराज

MP News: मध्य प्रदेश के धार के कारम नदी पर तैयार किए जा रहे डैम में दरार पड़ने के बाद अब इसे पूरी तरह खाली करने का फैसला लिया गया है और बांध को खाली करने के बाद ही मरम्मत का काम किया जाएगा। बांध विशेषज्ञों से सलाह-मशवरा करने के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने ये बड़ा फैसला लिया है। इसके लिए बांध के एक किनारे से वैकल्पिक नहर के जरिए पानी निकाला जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वो हालात पर लगातार नजर बनाए हुए हैं।  प्रशासन ने बांध के निचले क्षेत्र में बसे 18 गांवों को ऐहतियातन खाली करा लिया है और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर बने राहत शिविरों में भेजा गया है। कुछ लोगों ने जंगल में भी शरण ली है।

शिवराज कर रहे हैं निगरानी

कल देर रात तक सीएम शिवराज ने अपनी पूरी टीम के साथ कंट्रोल रूम से रेस्क्यू ऑपरेशन का जायजा लिया और अधिकारियों को जरुरी निर्देश दिए। बांध स्थल पर शिवराज सरकार को दो मंत्री- तुलसी सिलावट और राजवर्धन सिंह दत्तीगांव भी मौजूद हैं। सुरक्षा के लिहाज से धार और खरगौन जिले के उन 18 गांवों को पूरी तरह खाली करा लिया गया है जिन पर बांध के पानी का खतरा मंडरा रहा है।सेना नवे पूरी तरह मोर्चा संभाला हुआ है और वायुसेना के हेलीकॉप्टर पर अलर्ट मोड पर हैं।

एनडीआरएफ की टीम मौजूद

इसके अलावा NDRF की सूरत, बड़ोदरा, दिल्ली और भोपाल से एक-एक टीम भी मौके पर मौजूद है। हर टीम में करीब 30 से 35 ट्रेंड जवान शामिल हैं। धार में भरुडपुरा और कोठीदा के बीच कारम नदी पर बनाए जा रहे डैम में गुरुवार से लीकेज के बाद पानी का रिसाव शुरू हुआ था। इसके बाद शुक्रवार सुबह बांध के एक तरफ की मिट्‌टी बह गई इससे डैम की दीवार का बड़ा हिस्सा ढह गया।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर