Jharkhand: झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के खिलाफ केस दर्ज कराने वाला वकील कोलकाता में गिरफ्तार

Jharkhand: कोलकाता पुलिस को रांची पुलिस से इनपुट मिलने के बाद उसे मध्य कोलकाता के एक मॉल से उठाया गया था। गौरतलब है कि राजीव कुमार के खिलाफ झारखंड में कई मामले दर्ज हैं।

Lawyer who filed case against Jharkhand CM Hemant Soren arrested in Kolkata
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन। (File Photo)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • सीएम सोरेन के खिलाफ केस दर्ज कराने वाला वकील गिरफ्तार
  • कोलकाता के मॉल से हुई वकील की गिरफ्तारी 
  • वकील राजीव कुमार के खिलाफ झारखंड में कई मामले हैं दर्ज

Jharkhand: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के खिलाफ मामला दर्ज कराने वाले वकील को स्थानीय पुलिस ने रविवार को कोलकाता में गिरफ्तार कर लिया। सूत्रों ने कहा कि उसे एक पुलिस स्टेशन ले जाया गया और उसके पास से काफी मात्रा में रुपए मिले हैं। खबरों के मुताबिक वकील राजीव कुमार को कोलकाता पुलिस के उपद्रवी विरोधी दस्ते और हरे स्ट्रीट स्टेशन के अधिकारियों ने कथित तौर पर 50 लाख रुपए की ठगी करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

सीएम सोरेन के खिलाफ केस दर्ज कराने वाला वकील कोलकाता में गिरफ्तार

क्या झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन की कुर्सी खतरे में है, जानें- वजह

कोलकाता के मॉल से हुई वकील की गिरफ्तारी 

कोलकाता पुलिस को रांची पुलिस से इनपुट मिलने के बाद उसे मध्य कोलकाता के एक मॉल से उठाया गया था। गौरतलब है कि राजीव कुमार के खिलाफ झारखंड में कई मामले दर्ज हैं। राजीव कुमार ने हेमंत सोरेन के खिलाफ झारखंड के सीएम के खिलाफ भ्रष्टाचार और खनन अनियमितताओं का आरोप लगाते हुए याचिकाओं का प्रतिनिधित्व किया और उन पर मनी लॉन्ड्रिंग का भी आरोप लगाया। 

Sawal public ka : चोरी नहीं की तो ED से डरना क्यों? ईडी करप्शन क्लीनर या मोदी राज का 'गब्बर'? 

वहीं मुख्यमंत्री सोरेन ने खनन को लेकर जनहित याचिका के जवाब में कहा था कि आरोप बीजेपी द्वारा दायर एक अन्य याचिका के समान थे और ये एक ही व्यक्ति की करतूत है। राजीव कुमार की गिरफ्तारी के बाद उन्हें एक पुलिस स्टेशन ले जाया गया। ये घटनाक्रम झारखंड के तीन कांग्रेस विधायकों को कोलकाता में बड़ी मात्रा में कैश के साथ ले जाने की कोशिश करने के दौरान गिरफ्तार किए जाने के कुछ घंटों बाद आया है। उन पर झारखंड सरकार को गिराने की कोशिश का आरोप लगाया गया है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर