आज से खुलेगा कश्मीर का मशहूर ट्यूलिप गार्डन, जानिए खूबसूरत ट्यूलिप की खासियत [PICS]

कश्‍मीर का मशहूर ट्यूलिप गार्डन आज से खुलने जा रहा है। इसे एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन भी कहा जाता है। करीब एक साल बाद यह आम लोगों के लिए खुलने जा रहा है।

आज से खुलेगा कश्मीर का मशहूर ट्यूलिप गार्डन, जानिए खूबसूरत ट्यूलिप की खासियत [PICS]
आज से खुलेगा कश्मीर का मशहूर ट्यूलिप गार्डन, जानिए खूबसूरत ट्यूलिप की खासियत [PICS]  |  तस्वीर साभार: BCCL

श्रीनगर : जम्‍मू कश्‍मीर का बहुचर्चित ट्यूलिप गार्डन आज (गुरुवार, 25 मार्च) से खुल रहा है। कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए इसे बीते साल उस वक्‍त बंद कर दिया गया था, जब देशव्‍यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी। इसे अब एक बार फिर से आम लोगों के लिए खोला जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लोगों से अपील की है कि उन्‍हें जब भी मौका मिले, वे जम्मू-कश्मीर की यात्रा कर गार्डन जरूर घूमें।

पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, '25 मार्च जम्मू-कश्मीर के लिए खास है। जबरवन पर्वत की तलहटी में स्थित अद्भुत ट्यूलिप गार्डन आगंतुकों के लिए खुल जाएगा। गार्डन में 64 से अधिक किस्मों के 15 लाख से अधिक फूल दिखाई देंगे।'

एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, 'जब भी आपको अवसर मिले, जम्मू-कश्मीर की यात्रा करें और सुंदर ट्यूलिप गार्डन का दर्शन करें। ट्यूलिप के अलावा, आप जम्मू-कश्मीर के लोगों के गर्मजोशी भरे आतिथ्य-सत्कार का अनुभव करेंगे।'

एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन

यहां उल्‍लेखनीय है कि जबरवान पर्वत की तलहटी पर स्थित आलीशान ट्यूलिप गार्डन गुरुवार से पर्यटकों के लिए खुल रहा है। यहां 64 से ज्यादा किस्मों के फूल हैं। इस गार्डन में 15 लाख से ज्यादा ट्यूलिप फूलों के खिलने का अनुमान है, जो गार्डन दृश्‍य को मनोरम बनाता है।

यह एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप गार्डन है, जो लगभग 30 हेक्टेयर के क्षेत्र में फैला हुआ है। 2007 में तत्कालीन मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद की पहल पर कश्मीर घाटी में फूलों की खेती और पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इसे खोला गया था।

कोरोना गाइडलाइंस का पालन

कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए ट्यूलिप गार्डन में आगंतुकों के लिए कई एहतियाती कदम भी उठाए जा रहे हैं। डल झील किनारे स्थित ट्यूलिप गार्डन में एंट्री से पहले सभी पर्यटकों की थर्मल स्कैनिंग की जाएगी। यहां आगंतुकों के लिए सैनिटाइजर भी उपलब्ध होगा। यहां पर्यटकों के पानी पीने के लिए वाटर एटीएम और आरओ भी लगाए गए हैं। पर्यटकों को खाने-पीने का सामान अंदर ले जाने की अनुमति नहीं होगी और न ही गार्डन के भीतर खाने की कोई चीज उपलब्ध होगी। गार्डन में पॉलीथिन या प्लास्टिक बैग ले जाने की अनुमति नहीं होगी। लोगों को मास्क के बिना गार्डन में एंट्री नहीं मिलेगी। यहां उन्‍हें सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन करना होगा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर