Karnataka Bandh: कन्नड़ समर्थक समूह ने 31 दिसबंर का कर्नाटक बंद लिया वापस, सीएम बोम्मई की थी अपील

Karnataka Bandh: कन्नड़ समर्थक संगठनों के नेताओं ने सरकार के अनुरोध का सम्मान करते हुए अपना बंद का आह्वान वापस लेने का फैसला किया है।

 Karnataka Bandh: CM Basavaraj Bommai appeals Kannada groups to call off statewide shutdown on Dec 31
कन्नड़ समर्थक संगठनों ने 31 दिसंबर को राज्यव्यापी बंद वापस लिया  |  तस्वीर साभार: PTI
मुख्य बातें
  • कन्नड़ समर्थक संगठनों ने 31 दिसंबर को राज्यवापी बंद वापस लिया।
  • सीएम बोम्मई ने कहा कि मैं इसके लिए उन्हें बधाई देता हूं।
  • संगठन चाहते हैं कि सरकार महाराष्ट्र एकीकरण समिति पर प्रतिबंध लगाए

बेंगलुरु : कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि कन्नड़ समर्थक संगठनों ने 31 दिसंबर को कर्नाटक बंद का आह्वान वापस ले लिया है। वताल नागराज, प्रवीण शेट्टी, सा रा गोविंदु, केआर कुमार, शिवरामे गौडरू और अन्य लोगों के नेतृत्व में कन्नड़ समर्थक संगठनों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ बातचीत करने के बाद मीडियाकर्मियों से बात करते हुए बोम्मई ने कहा कि कन्नडिगास के रूप में आप और मैं कन्नड़ और कर्नाटक की सीमाओं की रक्षा की लड़ाई में एकजुट हूं।

कन्नड़ समर्थक संगठनों के नेताओं ने सरकार के अनुरोध का सम्मान करते हुए अपना बंद का आह्वान वापस लेने का फैसला किया है।  बोम्मई ने कहा  कि मैं इसके लिए उन्हें बधाई देता हूं। कल (31 दिसंबर) कर्नाटक बंद नहीं होगा। उन्होंने आश्वासन दिया है कि सामान्य जीवन और व्यवसायों के लिए कोई समस्या नहीं होगी। एमईएस पर प्रतिबंध लगाने के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि कानूनी प्रावधानों के तहत इसकी जांच की जा रही है। प्रतिनिधिमंडल को इसकी जानकारी दे दी गई है।

सीएम ने कन्नड़ समर्थक संगठनों से 31 दिसंबर को राज्यव्यापी बंद न बुलाने की अपील की थी। ये संगठन महाराष्ट्र एकीकरण समिति (एमईएस) की गतिविधियों पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाने की मांग कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार ने 'कन्नड़ विरोधी ताकतों' के खिलाफ पहले ही कदम उठाए हैं। सीएम ने कहा कि क्या एमईएस पर कानूनी रूप से प्रतिबंध लगाया जा सकता है, सरकार इसे देख रही है। 

बंद सभी बातों का जवाब नहीं-सीएम
बोम्मई ने कहा था, 'मैं संगठनों से अपील करता हूं...उनकी इच्छा के अनुरूप, हमने पहले ही कई तरह के कदम उठाए हैं। हमने कन्नड़ विरोधी ताकतों के खिलाफ कानून के हिसाब से कड़ी कार्रवाई की है। जहां तक एमईएस को प्रतिबंध करने की बात है तो हम इसे कानूनी रूप से देख रहे हैं। इसलिए मैं मीडिया के जरिए संगठनों से अपील करता हूं कि वे अपने प्रस्तावित बंद को न बुलाएं। बंद सभी चीजों का जवाब नहीं है।'

शांतिपूर्ण तरीके से दबाव बनाएं संगठन-बोम्मई
पत्रकारों के साथ बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा था कि संगठन के लोग यदि बंद को छोड़कर किसी अन्य शांतिपूर्ण तरीके से सरकार पर दबाव बनाते हैं तो वह उसका स्वागत करेंगे। उन्होंने कहा था, 'हम संगठनों से अपील करते हैं कि वे बंद का आह्वान वापस ले लें।'

एमईएस पर प्रतिबंध लगाने की मांग
कन्नड़ समर्थक समूहों का आरोप है कि महाराष्ट्र एकीकरण समिति 'कर्नाटक विरोधी एवं कन्नड़ विरोधी गतिविधियों में संलिप्त है।'  कन्नड़ समर्थक संगठन चाहते हैं कि राज्य सरकार इस समूह पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाए। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर