'कांग्रेस बड़ा जहाज है, इसे डूबने से बचाना होगा'; कांग्रेस का 'हाथ' थाम खूब बोले कन्हैया कुमार, यहां पढ़ें

Kanhaiya Kumar: कन्हैया कुमार कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक बड़ा जहाज है और इसे डूबने से बचाना होगा। कांग्रेस नहीं बचेगी तो देश नहीं बचेगा।

kanhaiya kumar
कन्हैया कुमार 

मुख्य बातें

  • करोड़ों युवाओं को लगता है कि कांग्रेस को बचाए बिना इस देश को नहीं बचाया जा सकता: कन्हैया कुमार
  • मैं कांग्रेस में शामिल हो रहा हूं क्योंकि यह सिर्फ एक पार्टी नहीं है, यह एक विचार है: कन्हैया

नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और CPI नेता कन्हैया कुमार कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक बड़ा जहाज है और बड़े जहाज को डूबने से बचाना है। कांग्रेस नहीं बचेगी तो देश नहीं बचेगा। कांग्रेस बचेगी तो देश के युवाओं का सपना बचेगा। विपक्ष कमजोर हो जाता है तो सत्ता तानाशाह हो जाती है। मैं कांग्रेस में शामिल हो रहा हूं क्योंकि यह सिर्फ एक पार्टी नहीं है, यह एक विचार है। यह देश की सबसे पुरानी और सबसे लोकतांत्रिक पार्टी है, और मैं 'लोकतांत्रिक' पर जोर दे रहा हूं

उन्होंने कहा कि आज लाखों-करोड़ों युवा यह मानने लगे हैं कि कांग्रेस नहीं बचेगी तो देश नहीं बचेगा। इसलिए मैंने देश की सबसे पुरानी और सबसे लोकतांत्रिक पार्टी में शामिल होने का फैसला किया है। मैं कांग्रेस इसलिए ज्वॉइन कर रहा हूं क्योंकि कुछ लोग ऐसे हैं जो देश की चिंता करते हैं। आप अपने विपक्ष का चुनाव   कर सकते हैं, दोस्त तो अपने आप बन जाएगा। कांग्रेस नही बची तो देश मे लोकतंत्र नहीं बचेगा।

कन्हैया ने कहा कि ये देश 1947 से पहले वाली स्थिति में पहंच गया है। मॉल में आग लग गई है तो शोरूम बचाने से क्या होगा। कांग्रेस ही सिर्फ एक पार्टी है जो गांधी के विचारधारा को लेकर चलेगी। जो लोग कह रहे है कि विपक्ष कमजोर हो गया है, उन्हें समझना चाहिए कि विपक्ष कमजोर होने से सत्ता निरंकुश हो जाती है।  

वहीं जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि मैं तकनीकी कारणों से औपचारिक रूप से कांग्रेस में शामिल नहीं हो सका। मैं एक निर्दलीय विधायक हूं, अगर मैं किसी पार्टी में शामिल होता हूं, तो मैं विधायक के रूप में नहीं रह सकता...मैं वैचारिक रूप से कांग्रेस का हिस्सा हूं, आगामी गुजरात चुनाव कांग्रेस के चुनाव चिह्न से लड़ूंगा। लोकतंत्र और भारत के विचार को बचाने के लिए मुझे उस पार्टी के साथ रहना होगा जिसने स्वतंत्रता संग्राम का नेतृत्व किया और अंग्रेजों को देश से बाहर निकाला। इसलिए मैं आज यहां कांग्रेस के साथ हूं। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर