JNU के छात्रों को देखने एम्स पहुंची प्रियंका ने ABVP के घायल छात्रों को किया अनदेखा! BJP ने जारी किया वीडियो

देश
किशोर जोशी
Updated Jan 10, 2020 | 08:46 IST

भारतीय जनता पार्टी के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने एक वीडियो जारी कर दावा किया है कि जब प्रियंका गांधी जेएनयू के घायल छात्रों को देखने एम्स पहुंची थी तो उन्होंने एबीवीपी के घायल छात्रों की अनदेखी की।

JNU violence ABVP activist narrates JNU violence Priyanka Gandhi walks away from AIIMS
प्रियंका ने एम्स में घायल ABVP के छात्रों को किया अनदेखा! 

मुख्य बातें

  • बीजेपी का दावा- AIIMS में प्रियंका गांधी ने एवीबीपी के घायल छात्रों से फेर लिया था मुंह
  • बीजेपी आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने वीडियो जारी कर किया दावा
  • वीडियो में दिख रहा है कि प्रियंका एबीवीपी के छात्र की बात को अनसुना कर रही हैं

नई दिल्ली: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में रविवार को हुई हिंसा में घायल विश्विद्यालय के स्टूडेंट्स को देखने के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी जब दिल्ली के एम्स पहुंची तो वहां एबीवीपी के घायल छात्र भी भर्ती थे। इस दौरान एक घायल छात्र ने जब प्रियंका गांधी को बताया कि एसएफआई के छात्रों ने उसकी पिटाई की है तो प्रियंका गांधी उसकी बात को अनसुना कर वहां से चले गईं। अब बीजेपी ने इसका एक वीडियो भी जारी किया है।

 

 

बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने एक ट्वीट करते हुए लिखा, ' प्रियंका वाड्रा कितनी संकीर्ण मानसिकता की हैं?आईसा और एसएफआई के गुंडों द्वारा एबीवीपी कार्यकर्ता शिवम चौरसिया को बेरहमी से पीटा गया जिसकी वजह से उसे 16 टांके लगे। उन्होंने एम्स पहुंची प्रियंका गांधी को जब इस बारे में बताया, जो वहां 'एकजुटता' दिखाने गईं थी, तो क्या हुआ था!'

इस वीडियो में एबीवीपी कार्यकर्ता बताए जा रहे शिवम चौरसिया ने प्रियंका गांधी से कहते हैं, 'मैम, मैं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से हूं। मुझे एसएफआई और आईसा के लोगों ने दौड़ा-दौडकर मारा, उनके गार्ड्स ने उनको पीछे किया और मुड़कर के चलीं गईं।' वीडियो में दिख रहा है कि प्रियंका छात्र की बात को अनसुना कर बिना कुछ कहे वहां से चली जाती हैं।

इससे पहले एबीवीपी ने आरोप लगाया था कि हमारे घायल छात्रों को जब एम्स में भर्ती किया गया था तो डॉक्टरों ने हमारे साथ भेदभाव किया था। एबीवीपी के एक छात्रा ने दावा किया था कि डॉक्टर पहले लेफ्ट के छात्रों का इलाज कर रहे थे उसके बाद हमारा इलाज किया जा रहा था।

 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर