सतिंदरजीत सिंह उर्फ गोल्डी बराड़ के खिलाफ इंटरपोल ने जारी किया रेड कॉर्नर नोटिस, सिद्धू मूसेवाला की हत्या ली है जिम्मेदारी

इंटरपोल ने सतिंदरजीत सिंह उर्फ गोल्डी बराड़ के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया। उन्होंने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। उसके पाकिस्तान में छिपे होने की खबर है।

Interpol issued red corner notice against Satinderjit Singh alias Goldy Brar, took responsibility for killing Sidhu Musewala
सतिंदरजीत सिंह रिंडा उर्फ गोल्डी बराड़ के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी 

इंटरपोल ने सतिंदरजीत सिंह रिंडा उर्फ गोल्डी बराड़ के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया। उसने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। मोहाली आतंकी हमले, लुधियाना कोर्ट कॉम्प्लेक्स हमले और पंजाब और उत्तर भारत में कई आतंकी हमलों में वांछित गैंगस्टर से आतंकवादी बने हरविंदर सिंह रिंडा के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया। एनआईए ने उसे लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट मामले में आरोपी बनाया है। हरविंदर सिंह रिंडा के पाकिस्तान में छिपे बताए जाने के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया है। महत्वपूर्ण है क्योंकि भारत अब पाकिस्तान से रिंडा के बारे में विवरण देने के लिए कह सकता है। पाकिस्तान भी इंटरपोल का सदस्य देश है।

इससे पहले आज ही पंजाब पुलिस के दावे के उलट सीबीआई ने एक बयान जारी कर कहा कि पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के एक दिन बाद 30 मई को गोल्डी बराड़ के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने का अनुरोध प्राप्त हुआ था। कनाडा में रहने वाले सतींद्रजीत सिंह उर्फ गोल्डी बराड़ ने मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। पंजाब के मानसा जिले में 29 मई को मूसेवाला की हत्या कर दी गई थी। पंजाब पुलिस ने बुधवार को दावा किया था कि उसने मूसेवाला की हत्या से 10 दिन पहले गोल्डी बराड़ के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने का अनुरोध किया था, जिसके बाद सीबीआई ने अपना पक्ष रखा है।

सीबीआई ने कहा कि उसे 30 मई को दोपहर 12:25 बजे ईमेल के माध्यम से पंजाब पुलिस के जांच ब्यूरो की ओर से एक अनुरोध प्राप्त हुआ था। ईमेल के साथ 19 मई की तारीख वाला एक पत्र भी संलग्न था, जिसमें पंजाब पुलिस द्वारा फरीदकोट के नगर थाने में बराड़ पर दर्ज दो एफआईआक के आधार पर उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने का अनुरोध किया गया था।

सीबीआई ने कहा कि मौजूदा मामले में, पंजाब पुलिस की ओर से सतींद्रजीत सिंह उर्फ गोल्डी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करने के प्रस्ताव की हार्ड कॉपी सीबीआई, नयी दिल्ली को 30 मई 2022 को प्राप्त हुई थी। सूत्रों ने बताया कि राज्य पुलिस द्वारा जांच किए जा रहे दोनों मामलों में अदालत द्वारा आरोपी बराड़ के खिलाफ वारंट जारी करने के करीब छह महीने बाद पत्र भेजा गया था।

गौरतलब है कि रेड कॉर्नर नोटिस इंटरपोल के 195 सदस्य देशों की कानून लागू करने वाली एजेंसी को अनुरोध करने वाले सदस्य देश द्वारा वांछित भगोड़े का पता लगाने और उसे हिरासत में लेने के लिये अलर्ट करता है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर