कोरोना काल में लोगों की मदद करने वाले IYC अध्यक्ष श्रीनिवास से पूछताछ, राहुल गांधी ने दी प्रतिक्रिया

देश
Updated May 14, 2021 | 18:26 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों को मदद मुहैया कराने के लिए भारतीय युवा कांग्रेस (IYV) के अध्यक्ष श्रीनिवास बी. वी. से शुक्रवार को पूछताछ की।

srinivas
श्रीनिवास बीवी  |  तस्वीर साभार: ANI

नई दिल्ली: भारतीय युवा कांग्रेस (IYC) के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी से दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने 'कोविड-19 की दवाओं के अवैध वितरण' को लेकर  पूछताछ की। इस पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पुलिस को निशाने पर लेते हुए कहा कि बचाने वाला हमेशा मारने वाले से बड़ा होता है। राहुल गांधी ने हैशटैग का भी इस्तेमाल किया और कहा कि मैं IYC के साथ खड़ा हूं। श्रीनिवास कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों को मदद मुहैया करा रहे हैं और शुक्रवार को उनसे इसी संबंध में पूछताछ की गई।

श्रीनिवास बीवी ने बताया कि क्राइम ब्रांच ने उनसे कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों को दी जा रही सहायता के बारे में पूछताछ की। दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के अधिकारी सुबह करीब 11 बजे मध्य दिल्ली के रायसीना रोड पर IYC कार्यालय पहुंचे। उन्होंने कहा, 'पुलिस ने आज सुबह मुझे फोन किया और सुबह करीब 11.45 बजे मेरे कार्यालय में आई। उन्होंने सवाल किया कि आप यह कैसे कर रहे हैं।' 

इंडियन यूथ कांग्रेस की कोरोना मरीजों को राहत पहुंचाने के लिए प्रशंसा हो रही है। IYC ने कोरोना वायरस संक्रमण से प्रभावित लोगों की मदद के लिए #SOSIYC अभियान शुरू किया है। मरीजों को अस्पतालों तक पहुंचाने, उनके लिए ऑक्सीजन सिलेंडर, दवाइयां और एंबुलेंस सेवाओं के लिए सोशल मीडिया पर आने वाले सैकड़ों अनुरोधों को संभालने के लिए IYC ने अपने कार्यालय में एक वॉर रूम स्थापित किया है। 

हालांकि, दिल्ली पुलिस ने कहा कि दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश के बाद पूछताछ की गई। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि उच्च न्यायालय ने कोविड-19 के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवाओं और अन्य सामग्रियों के वितरण में शामिल नेताओं से दिल्ली पुलिस को पूछताछ करने और अपराध के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने को कहा था। अधिकारी ने बताया कि उच्च न्यायालय के निर्देशों की तामील करते हुए कई लोगों के खिलाफ जांच की जा रही है।

दिल्ली हाई कोर्ठ ने 4 मई को पुलिस को राष्ट्रीय राजधानी में नेताओं द्वारा रेमडेसिविर दवा हासिल करने और इसे कोविड-19 मरीजों को वितरित करने के मामलों की पड़ताल करने और अपराध के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए कदम उठाने को कहा था।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर