आतंकियों ने किया जिस सुरंग का इस्तेमाल, उसका पता लगाने पाकिस्तान में 200 मीटर तक अंदर गए सुरक्षाबल

भारतीय सुरक्षाबल उस सुरंग का पता लगाने के लिए पाकिस्तान में 200 मीटर तक अंदर गए, जिससे आतंकवादी घुसपैठ करते हैं। इस सुरंग से आतंकी भारतीय सीमा में आए थे, जिनको ढेर कर दिया गया।

tunnel
सुरंग 

मुख्य बातें

  • भारतीय सीमा में घुसने के लिए सुरंग का इस्तेमाल करते थे आतंकी
  • भारतीय सुरक्षाबल सुरंग का पता लगाने पाकिस्तान में अंदर तक घुसे
  • 200 मीटर तक अंदर जाने के बाद सुरंग का पता चला

नई दिल्ली: हाल ही में एक ऑपरेशन में भारतीय सुरक्षा बल पाकिस्तान में लगभग 200 मीटर तक अंदर गए और एक सुरंग का पता लगाया। इस सुरंग का इस्तेमाल आतंकवादियों ने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने के लिए किया था। सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने ये जानकारी दी। उन्होंने बताया, 'सुरक्षा बल लगभग 200 मीटर तक पाकिस्तान के अंदर चले गए, जो सुरंग का शुरुआती बिंदु था, इसका इस्तेमाल आतंकवादियों द्वारा किया था।'

जम्मू-कश्मीर के सांबा सेक्टर में 22 नवंबर को अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ के लिए इस्तेमाल की जाने वाली 150 मीटर लंबी भूमिगत सुरंग का पता चला था। नवंबर के तीसरे सप्ताह में सुरक्षा बलों ने उनके द्वारा मारे गए आतंकवादियों के कब्जे से मोबाइल फोन बरामद किए, जिससे सेना को सुरंग का पता लगाने में मदद मिली।

सीमा सुरक्षा बल (BSF) के महानिदेशक राकेश अस्थाना ने मंगलवार को कहा, '22 नवंबर को सुरक्षा बलों द्वारा मारे गए आतंकवादियों के मोबाइल फोन के विश्लेषण के आधार पर बीएसएफ ने सांबा सेक्टर में आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ करने के लिए इस्तेमाल की गई एक सुरंग का पता लगाया।'

सुरंग से आए आतंकी

अस्थाना ने बीएसएफ के स्थापना दिवस पर भाषण देते हुए यह बात कही। हालांकि डीजी बीएसएफ ने ऑपरेशन को लेकर कुछ नहीं कहा। सुरंग का पता बीएसएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के संयुक्त अभियान में चला। बीएसएफ जम्मू फ्रंटियर, इंस्पेक्टर जनरल, एनएस जामवाल ने कहा था, 'ऐसा लगता है कि नगरोटा एनकाउंटर में शामिल आतंकवादियों ने 150 मीटर लंबी सुरंग का इस्तेमाल किया। हमारा मानना है कि उनके पास एक गाइड था जो उन्हें हाईवे तक ले गया।' 

4 आतंकी किए थे ढेर

19 नवंबर को जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में हुए एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने चार संदिग्ध जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादियों को ढेर कर दिया था। करीब तीन घंटे तक चली मुठभेड़ में चार आतंकवादी मार गिराए गए जबकि दो पुलिसकर्मी भी घायल हुए। 11 एके राइफल, तीन पिस्टल, 24 मैगजीन, 29 हथगोले और छह यूबीजीएल ग्रेनेड समेत भारी मात्रा में हथियार, गोलाबारुद और विस्फोटक सामग्री बरामद की गई। इसके अलावा दवाएं, तार के बंडल, इलेक्ट्रॉनिक सर्किट और भारी मात्रा में बैग भी आतंकवादियों के पास से बरामद हुए हैं।
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर