Maharashtra : महाराष्ट्र में कोरोना के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस से पहली मौत, राज्य में अभी भी 20 केस  

Maharashtra : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र में कोरोना के इस नए वैरिएंट के अब तक 21 मामले सामने आए हैं। इनमें से एक की मौत हो गई। राज्य में अब इस नए वैरिएंट के 20 मामले बचे हैं।

 In Maharashtra, first death from Delta-Plus Covid-19 variant
महाराष्ट्र में कोरोना के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस से पहली मौत।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • देश में अब तक कोरोना के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस के 40 से ज्यादा केस मिल चुके हैं
  • महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, केरल, पंजाब और जम्मू में मिला है कोरोना का यह नया वैरिएंट
  • दुनिया के नौ देशों में भी मिला है यह वैरिएंट, स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने इस पर चिंता जताई

मुंबई : महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोरोना के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस से संक्रमित एक मरीज की मौत हुई। राज्य में डेल्टा प्लस वैरिएंट से मौत का यह पहला केस है। रिपोर्टों में कहा गया है कि रत्नानिगरी के संगमेश्वर इलाके में 80 साल के बुजुर्ग ने दम तोड़ा। बुजुर्ग को अन्य बीमारियां भी थीं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्र में कोरोना के इस नए वैरिएंट के अब तक 21 मामले सामने आए हैं। इनमें से एक की मौत हो गई। राज्य में अब इस नए वैरिएंट के 20 मामले बचे हैं। इन सभी मरीजों की गहन निगरानी की जा रही है।

देश भर में डेल्टा प्लस के 40 से ज्यादा मामले
देश में डेल्टा प्लस वैरिएंट से संक्रमित होने के 40 से ज्यादा मामले मिल चुके हैं। मध्य प्रदेश में इस वैरिएंट के कम से कम सात नए केस मिले जिनमें से मरीजों की मौत होई। डॉक्टरों का कहना है कि जिन मरीजों की मौत हुई है उनका टीकाकरण नहीं हुआ था। जबकि तीन मरीज जिन्हें पहले टीके की एक अथवा दो खुराक लग चुकी है, वे इससे ऊबर गए हैं और उन्हें बिना किसी जटिलता के होम आइसोलेशन में रखा गया है। डॉक्टरों का कहना है कि दो अन्य मरीजों को भी टीका नहीं लगा था, ये भी संक्रमण से मुक्त हो गए हैं। ये सभी सातों मरीजे पिछले महीने पॉजिटिव पाए गए। इनके सैंपल्स की जिनोम सिक्वेंसिंग में डेल्टा पल्स से संक्रमित होने की पुष्टि हुई।  

कई राज्यों में मिले नए वैरिएंट के केस
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि महाराष्ट्र, केरल और मध्य प्रदेश में ‘डेल्टा प्लस’ स्वरूप (वेरिएंट) के लगभग 40 मामले सामने आए हैं। इसे ‘चिंताजनक स्वरूप’ (वीओसी) के रूप में वर्गीकृत किया है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘भारत में अब तक 45,000 से अधिक नमूनों के अनुक्रमण के बाद डेल्टा प्लस स्वरूप - एवाई.1 - के करीब 40 मामले महाराष्ट्र, केरल और मध्य प्रदेश में कहीं-कहीं सामने आए हैं और इसकी मौजूदगी में कोई उल्लेखनीय वृद्धि नहीं देखी गई है।’

नौ देशों में मिला डेल्टा प्लस वैरिएंट
स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि अब तक नौ देशों-अमेरिका, ब्रिटेन, पुर्तगाल, स्विटजरलैंड, जापान, पोलैंड, रूस, चीन और भारत में कोरोना का नया वैरिएंट डेल्टा प्लस मिला है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि अगर मौजूदा चलन जारी रहता है तो कोविड-19 के सबसे अधिक संक्रामक प्रकार डेल्टा के अन्य स्वरूपों के मुकाबले हावी होने की आशंका है। डब्ल्यूएचओ की यह चेतावनी ऐसे समय में आई है जब 85 देशों में इस स्वरूप के मिलने की पुष्टि हुई है और दुनिया के अन्य देशों में भी इसके मामले सामने आते जा रहे हैं।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर