कांग्रेस की प्रवक्ता ने पूछा-BJP की हार पर यूं ही खुश होगी पार्टी तो आत्ममंथन कैसे करेगी?

बंगाल के राजनीतिक इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली है। रविवार को बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी के चुनाव नतीजे आए।

How Congress will introspect if it feel delighted over BJP loss : Ragini Nayak
कांग्रेस की प्रवक्ता ने पार्टी की हार पर उठाए सवाल।  |  तस्वीर साभार: Twitter

नई दिल्ली : बंगाल चुनाव में भारतीय जनता पारी (भाजपा) को मिली शिकस्त पर कांग्रेस के कुछ नेताओं के खुशी जाहिर करने पर पार्टी की प्रवक्ता रागिनी नायक ने तंज कसा है। पार्टी की तेज तर्रार प्रवक्ता ने पूछा है कि 'यदि हम (कांग्रेसी) मोदी की हार में ही अपनी खुशी ढूंढते रहेंगे तो अपनी हार पर आत्म-मंथन कैसे करेंगे।' चुनाव में टीएमसी की जीत होने पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को एक ट्वीट किया। अपने इस ट्वीट में उन्होंने कहा, 'भाजपा को बुरी तरह पराजित करने के लिए बंगाल की जनता एवं ममता जी को धन्यवाद देते समय मुझे खुशी हो रही है।' 

रविवार को 5 राज्यों के चुनाव नतीजे आए
जाहिर है कि कांग्रेस प्रवक्ता का इशारा राहुल की तरफ है। बंगाल के राजनीतिक इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली है। रविवार को बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी के चुनाव नतीजे आए। तमिलनाडु को छोड़कर बाकी सभी राज्यों में कांग्रेस की पराजय हुई है। असम में एआईयूडीएफ के साथ जाने का उसका फैसला सही साबित नहीं हुआ।

यहां सोनावाल के नेतृत्व में भाजपा एक बार फिर सरकार बनाने जा रही है। केरल की 40 दशक की परंपरा रही है कि यहां कि जनता बारी-बारी से लेफ्ट और कांग्रेस को सत्ता सौंपती आई है लेकिन इस बार यह परंपरा भी टूट गई। सीएम पिनरई विजयन के नेतृत्व में यहां दोबारा लेफ्ट की सरकार बनने जा रही है।

तमिलनाडु में डीएमके की जूनियर पार्टी है कांग्रेस
तमिलनाडु में कांग्रेस-डीएमके गठबंधन की जीत तो हुई है लेकिन यहां भी उसे ज्यादा खुश होने की जरूरत नहीं है। इस राज्य में वह डीएमके की 'जूनियर  पार्टनर' के रूप में है। पुडुचेरी में कांग्रेस की हार हुई है। यहां एनडीए की सरकार बनने जा रही है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की केरल से लेकर बंगाल तक हार हुई है लेकिन वह अपनी हार से ज्यादा दूसरे के शिकस्त में अपनी 'खुशी' ढूंढ रही है। 

पुडुचेरी में सत्ता गंवाई
असम में कांग्रेस को 29 सीटें, केरल में 21 सीटें, पुडुचेरी में दो सीटें और तमिलनाडु में 18 सीटें मिली हैं। राहुल ने इस बार केरल में पार्टी का काफी प्रचार किया। प्रियंका गांधी ने भी इस राज्य में प्रचार किया लेकिन यहां कांग्रेस का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। राहुल केरल के वायनाड से सांसद भी हैं। विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद कांग्रेस के बागी नेता पार्टी अलाकमान पर एक बार फिर हमलावर हो सकते हैं। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर