Gujarat: अमित शाह बोले- सदियों में कोई एक सरदार बन पाता है, वो एक सरदार सदियों तक अलख जगाता है

केंद्रीय गृहमंत्री Amit Shah दो दिन के गुजरात दौरे पर केवड़िया पहुंच गए हैं। शाह केवड़िया में राष्ट्रीय एकता दिवस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि हैं। स्टैचू ऑफ यूनिटी पर होने वाले इस कार्यक्रम को अमित शाह संबोधित भी करेंगे।

Gujarat Amit Shah to attend Rashtriya Ekta Diwas function at Statue of Unity on Sunday
आज से दो दिवसीय गुजरात दौरे पर रहेंगे गृहमंत्री अमित शाह  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • सरदार पटेल की जयंती पर गुजरात में राष्‍ट्रीय एकता दिवस समारोह का आयोजन
  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह हैं मुख्य अतिथि
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रिकॉर्डेड संदेश के जरिए करेंगे संबोधित

अहमदाबाद: आज सरदार पटेल की जयंती (Sardar Vallabhbhai Patel Birth Anniversary) हैं और देश राष्ट्रीय एकता दिवस मना रहा है। गुजरात के केवड़िया में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर खास कार्यक्रम हैं जिसमें केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत कर रहे हैं। गृह मंत्री ने सबसे पहले सरदार पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित की फिर एक परेड की सलामी ली जिसमें अर्द्धसैनिक बल और गुजरात पुलिस के जवान हिस्सा ले रहे हैं।

शाह ने कही ये बात

गृह मंत्री अमित शाह ने इस मौके पर संबोधित करते हुए कहा, 'आज जो परंपरा हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने शुरू की है, देश के प्रथम गृह मंत्री और लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल के जन्म दिन को राष्ट्रीय एकता दिन के रूप में मनाने की परंपरा को आज हम आगे बढ़ा रहे हैं। आज सरदार पटेल की जन्म जयंती है। मैं पूरे देश में करोड़ों देशवासियों को बताना चाहता हूं- सदियों में कोई एक सरदार बन पाता है, वो एक सरदार सदियों तक अलख जगाता है। सरदार पटेल जी की दी हुई प्रेरणा ने ही आज देश को एक और अक्षुण्ण रखने का कार्य किया है। आज उनकी प्रेरणा देश को आगे ले जाने में, हमें एकजुट रखने में सफल हुई है।'

गृह मंत्री ने ट्वीट करते हुए कहा, 'मातृभूमि के लिए सरदार साहब का समर्पण, निष्ठा, संघर्ष और त्याग हर भारतवासी को देश की एकता व अखंडता के लिए खुद को समर्पित करने की प्रेरणा देता है। अखंड भारत के ऐसे महान शिल्पी की जयंती पर उनके चरणों में वंदन व समस्त देशवासियों को 'राष्ट्रीय एकता दिवस' की शुभकामनाएं। सरदार पटेल का जीवन हमें बताता है कि कैसे एक व्यक्ति अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति, लौह नेतृत्व और अदम्य राष्ट्रप्रेम से देश के भीतर की सभी विविधताओं को एकता में बदल कर एक अखंड राष्ट्र का स्वरूप दे सकता है। सरदार साहब ने देश के एकीकरण के साथ आजाद भारत की प्रशासनिक नींव रखने का भी काम किया।'

परेड में शामिल हैं ये जवान

आईटीबीपी, एसएसबी, सीआईएसएफ, सीआरपीएफ और बीएसएफ के 75 साइकिल चालक तथा त्रिपुरा, तमिलनाडु, जम्मू कश्मीर एवं गुजरात के पुलिस बलों के 101 मोटरसाइकिल चालक भी इस परेड में हिस्सा ले रहे हैं। साइकिल चालक जवानों ने देश के विभिन्न हिस्सों से लगभग 9,000 किलोमीटर की जबकि मोटरसाइिकल सवारों ने 9,200 किलोमीटर की दूरी तय की है।

रिकॉर्डेड संदेश के जरिए होगा पीएम का संबोधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रिकॉर्डेड वीडियो मैसेज के जरिए समारोह को संबोधित करेंगे। मोदी ने 2020 तक तीनों कार्यक्रमों में हिस्सा लिया, लेकिन इस साल वह इसमें शामिल नहीं हो सकेंगे क्योंकि जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिये वह इटली में हैं। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी अथॉरिटी के एक अधिकारी ने बताया कि
 

182 मीटर ऊंची है प्रतिमा

केवड़िया में दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू  ऑफ यूनिटी के निर्माण के बाद मोदी सरकार ने सरदार पटेल जयंती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी। इस अवसर पर देश भर में अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। सरदार पटेल की यह प्रतिमा 182 मीटर ऊंची है और यह दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा है।आपको बता दें कि मोदी सरकार सरकार ने, 2014 में, 31 अक्टूबर को सरदार पटेल की जयंती को ‘‘राष्ट्रीय एकता दिवस’’ के रूप में मनाने का फैसला किया था।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर