चारधाम तीर्थयात्रियों के लिए गुड न्यूज, उत्तराखंड सरकार ने बढ़ाई संख्या, लेकिन पहले कराना होगा रजिस्ट्रेशन

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने तीर्थयात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए चारधाम (यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ) में दर्शन करने वालों की संख्या बढ़ाने की अनुमति दी। 

Good news for the pilgrims of Chardham, Uttarakhand government increased the number but first you have to register
चात्रधाम यात्रियों की संख्या बढ़ी  |  तस्वीर साभार: ANI

देहरादून : उत्तराखंड सरकार ने मंगलवार को यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ और बद्रीनाथ में तीर्थयात्रियों की संख्या में एक-एक हजार की वृद्धि करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि सरकार ने चारधाम में तीर्थयात्रियों की संख्या एक- एक हजार बढ़ाने का फैसला किया है।  सीएम ने कहा, दर्शन को सुव्यवस्थित करने के लिए प्रत्येक धाम में 1000 यात्रियों की क्षमता बढ़ाई गई है।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि यात्रा के पहले दिन हमेशा भक्तों की भारी भीड़ होती है, जिसके लिए केदारनाथ, बद्रीनाथ, यमुनोत्री और गंगोत्री में 'दर्शन' के लिए लंबी कतारें देखी जाती हैं। सीएम ने कहा कि पोर्टल ओपन के बाद भीड़ को अब कुछ हद तक नियंत्रित किया गया है और यात्रा को बेहतर तरीके से चलाया जा रहा है। तीर्थयात्रा के लिए पूर्व रजिस्ट्रेशन अनिवार्य किया गया है।

इसके साथ, 16,000 भक्त बद्रीनाथ जा सकते हैं और 13,000 भक्त केदारनाथ धाम में एक दिन में देवता के 'दर्शन' कर सकते हैं। अब, एक दिन में क्रमशः 8,000 और 5,000 तीर्थयात्री गंगोत्री और यमुनोत्री धाम की यात्रा कर सकते हैं। इससे पहले, जब तीर्थयात्रा 3 मई को शुरू हुई थी, तो बद्रीनाथ में प्रतिदिन 15,000, केदारनाथ में 16,000, गंगोत्री धाम में 7,000 और यमुनोत्री धाम में 5,000 तीर्थयात्रियों को अनुमति दी गई थी। गंगोत्री-यमुनोत्री धाम के कपाट 3 मई को खोले गए, जबकि केदारनाथ और बद्रीनाथ के कपाट क्रमश: 6 मई और 8 मई को खोले गए। 

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद के अनुसार, इस साल 2 लाख से अधिक तीर्थयात्री चारधाम के दर्शन कर चुके हैं। जिनमें से 77,656 तीर्थयात्रियों ने अकेले केदारनाथ का दौरा किया, जबकि 49,215 ने गंगोत्री धाम, 46,405 यमुनोत्री धाम और 30,773 श्रद्धालुओं ने बद्रीनाथ धाम के दर्शन किए।

इस साल, यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन ने एक नया रिकॉर्ड भी देखा है क्योंकि 10 लाख से अधिक तीर्थयात्रियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। राज्य सरकार द्वारा तीर्थयात्रियों के मार्ग पर स्वास्थ्य अधिकारियों की एक टीम के साथ सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर