गिरिराज स‍िंह ने एसपी को लगाई फटकार, 'नीतीश कुमार क्‍या चाहते हैं, लोग बेगूसराय खाली कर दें', Video viral

देश
श्वेता कुमारी
Updated Feb 14, 2020 | 17:21 IST

Patna News: केंद्रीय मंत्री गिर‍िराज सिंह ने बिहार में कानून-व्‍यवस्‍था का मुद्दा उठाते हुए एसपी को फोन पर डांटा, जिसका वीडियो वायरल हो रहा है।

Giriraj Singh scolds Begusarai SP on an alleged murder case
गिरिराज स‍िंह ने फोन पर एसपी को फटकार लगाई  |  तस्वीर साभार: ANI

पटना : केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का एक वीड‍ियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह कथित हत्‍या के एक मामले में बेगूसराय के पुलिस अधीक्षक (एसपी) को डांटते-फटकारते नजर आ रहे हैं। इसमें जहां वह राज्‍य में कानून-व्‍यवस्‍था की हालत पर असंतोष जताते नजर आ रहे हैं, वहीं उन्‍होंने पुलिस पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप भी लगाया। इसमें वह मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार का भी नाम लेते हैं और कहते हैं कि क्‍या बेगूसराय के लोग जिले को छोड़कर चले जाएं?

गिरिराज सिंह बेगूसराय से ही बीजेपी के सांसद हैं। वह अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर थे, जब उन्‍होंने एसपी को फोन पर फटकार लगाई। उनका जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें उनके साथ कुछ अन्‍य लोग भी नजर आ रहे हैं, जो वहां के बाशिंदे लगते हैं। उन्‍होंने आरोप लगाया कि लोगों की हत्‍या की जा रही है, लेकिन उन्‍हें एक्‍सीडेंट का नाम दिया जा रहा है। अपराधियों में पुलिस व प्रशासन का बिल्‍कुल भी खौफ नहीं रह गया है, जिसके कारण वे अपने मंसूबों को बिना डर के अंजाम दे रहे हैं।

बरौनी फुलवरिया में मृतक के परिजनों से मिलने गए गिरिराज सिंह ने एसपी को फोन पर डांट लगाते हुए कहा, 'राक्षस लोगों को आपने बिठा दिया है... सबको मार-मार के ऐक्सिडेंट-एक्‍सीडेंट की रट लगा रहे हैं और जब कोई मिलने जाए तो उसको जेल भेज दिया जाता है। क्या चाहते हैं, इस्तीफा देकर हम यहां से निकल जाएं।'

एसपी की तरफ से कुछ कहे जाने के बाद बेगूसराय के सांसद एक बार फिर नाराज हो जाते हैं और कहते हैं, 'फुलवरिया में ट्रांसपोर्टर रविंद्र राय की हत्या हुई है, आपको नहीं पता। पूरी पब्लिक लगी तब जाकर उसका एक्‍सरे हुआ। वो जो लड़का मारा गया रजवाड़ा वाला उसके परिवार को आपने जेल भेज दिया। क्‍या कर रहे हैं? क्‍या विचार है? या तो नीतीश कुमार को कहिए कि बेगूसराय जिला लोग खाली कर दें या हम इस्तीफा दे दें।' उन्‍होंने यह भी कहा कि अपराधियों में पुलिस का खौफ नहीं रह गया है।

एस पी की तरफ से जब इस मामले में एक बार फिर अपना पक्ष रखा गया तो उन्‍होंने कहा, 'आप कह रहे हैं एक्‍सीडेंट और उसके परिवार के सदस्‍यों का कहना है कि उसे घर से खींचकर ले जाया गया। इसका मतलब आपको चाह रहे हैं कि कोई जुबान न खोले और हत्‍यारा हत्‍या करता जाए।


 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर