अपने डॉक्टर 'बेटे' की शादी में पहुंचे राजनाथ, 20 साल पहले ऊठाई थी सारी जिम्मेदारी

देश
किशोर जोशी
Updated Feb 27, 2021 | 18:37 IST

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को गाजीपुर जिले के सैदपुर पहुंचे और यहां पहुंचकर उन्होंने शादी समारोह में शिरकत की वो भी अपने दत्तक पुत्र की शादी में।

Ghazipur Defence Min Rajnath Singh attended marriage function of Dr Brijendra,whose education was supported by him
अपने डॉक्टर 'बेटे' की शादी में पहुंचे राजनाथ, दिया आशीर्वाद 

मुख्य बातें

  • 20 साल पहले राजनाथ सिंह ने जिस बेटे को लिया था गोद, अब उसकी शादी में पहुंचे
  • राजनाथ ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहने के दौरान उठाया था जिम्मा
  • मैं जब उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री था, मैंने तभी बिजेंद्र की पढ़ाई का खर्चा उठाने की ठानी थी- राजनाथ

गाजीपुर: केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को जब अचानक से गाजीपुर के एक गांव में पहुंचे तो वहां मौजूद लोग हैरान रह गए। दरअसल राजनाथ जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने वर्ष 2000-2001 के दौरान सैदपुर नगर के वार्ड 11 से एक लड़के को गोद लिया था। तब से अनुसूचित जाति के बृजेंद्र सिंह की पढ़ाई-लिखाई की सारी जिम्मेदारी राजनाथ सिंह ने ऊठाई थी।

दिया आशीर्वाद

शनिवार को जब बृजेंद्र सिंह की शादी हुई तो राजनाथ सिंह खुद आशीर्वाद देने वहां पहुंचे इस दौरान उनके स्वागत में पूरा गांव उमड़ गया। राजनाथ ने शादी समारोह में पहुंचक नवविवाहित दंपति को आशीर्वाद दिया। रक्षामंत्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'मैं जब उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री था, मैंने तभी बृजेंद्र की पढ़ाई का खर्चा उठाने की ठानी थी और आज मुझे उसे एक डॉक्टर के रूप में देखकर बहुत खुशी होती है। ये उम्मीद से कहीं ज्यादा है। मैं बहुत खुश हूं।'

यूपी के गाजीपुर में डॉक्टर के शादी समारोह में भाग लेते समय रक्षामंत्री ने कहा, 'जब मैं यूपी का CM था तब गरीब परिवार के दो बच्चों कि पढ़ाई-लिखाई की सारी व्यवस्था खुद करने को कहा था। वह आज डॉक्टर बन गया है और उसकी शादी में भाग लेने आया हूं। जो कर सकते हों उनको गरीब बच्चों की मदद करनी चाहिए।'

सन 200 में लिया था गोद

वहीं दूल्हा बृजेंद्र ने राजनाथ के पहुंचने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'उन्हें राजनाथ सिंह के आने की उम्मीद नहीं थी। मैं बहुत खुश हूं।' दरअसल बृजेंद्र ने 2000 में 8वीं कक्षा में टॉप किया था। उस समय राजनाथ सिंह प्रदेश के सीएम थे। इसके बाद राजनाथ ने को जब बृजेंद्र की पारिवारिक स्थिति के बारे में पता चला तो उन्होंने उसकी सारी जिम्मेदारी उठाने की सोची। चूंकि बृजेंद्र के पिता नहीं थे तो राजनाथ ने पढ़ाई से लेकर एमबीबीएस तक उसकी हर जिम्मेदारी उठाने का दायित्व निभाया। आज बृजेंद्र एक डॉक्टर है।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर