वैक्सीनेशन की जिम्मेदारी केंद्र की, पीएम की घोषणा पर ऐसी है राज्यों और विपक्षियों की प्रतिक्रिया

देश
लव रघुवंशी
Updated Jun 07, 2021 | 20:59 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि अब 18 से 44 साल के आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण के लिए भी राज्यों को टीका मुफ्त में उपलब्ध कराया जाएगा। विपक्षी नेताओं और राज्यों ने इसका स्वागत किया है।

Narendra Modi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 

मुख्य बातें

  • राज्यों को 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए मुफ्त टीका मिलेगा: प्रधानमंत्री मोदी
  • राज्य सरकारों को अब टीकों पर कोई रकम खर्च नहीं करनी है: मोदी
  • राज्य सरकारें इस फैसले का समर्थन कर रही हैं

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश को संबोधित करते हुए कहा कि 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए मुफ्त कोविड-19 टीकाकरण किया जाएगा। मुफ्त टीकाकरण 21 जून 2021 से शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के लिए राज्यों को टीका मुफ्त में उपलब्ध कराया जाएगा। मोदी सरकार के इस फैसले का विपक्षी नेताओं ने भी स्वागत किया है। हालांकि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सवाल उठाते हुए ट्वीट किया, 'एक आसान सा सवाल- यदि सभी के लिए टीके मुफ्त हैं, तो निजी अस्पताल उनके लिए शुल्क क्यों लें?'

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन देने के फैसले के लिए उनको धन्यवाद दिया। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, 'वैक्सीन को लेकर राज्यों में आपसी प्रतिस्पर्धा थी। कोई ग्लोबल टेंडर कर रहा था लेकिन कुछ नहीं हो रहा था। वैक्सीन अभियान बिखर रहा था। मैं प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद करता हूं कि अब  सभी लोगों का वैक्सीनेशन का काम केंद्र सरकार मुफ्त में करेगी।'

विपक्षियों ने किया स्वागत

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सभी लोगों के लिए अब वैक्सीन मुफ्त कर दी है। देर आए दुरुस्त आए, जो होना चाहिए था वह फिर से हो रहा है। वैक्सीन नीति में केंद्र सरकार को पहले कोई बदलाव नहीं करना चाहिए था।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, 'जब राज्य की सरकारों ने केंद्र पर दबाव डालकर मुफ्त में वैक्सीन देने की बात कही और सुप्रीम कोर्ट ने दखल दिया उसके बाद ही प्रधानमंत्री को सभी लोगों के लिए वैक्सीन मुफ्त करने का फैसला करना पड़ा। इससे साफ होता है कि PM ने यह फैसला दबाव में लिया है।'

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, 'मैं सभी आयु समूहों के लिए वैक्सीन की केंद्रीय खरीद और वितरण के हमारे अनुरोध को स्वीकार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को धन्यवाद देता हूं। मैंने इस मुद्दे पर पीएम को और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन जी को दो बार लिखा था।' 

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन कि प्रधानमंत्री की यह घोषणा कि 21 जून से राज्यों को वैक्सीन की मुफ्त आपूर्ति की जाएगी, इस समय सबसे उपयुक्त फैसला है। मुझे खुशी है कि हमारे अनुरोध पर प्रधानमंत्री ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है।

आप विधायक राघव चड्ढा ने इस फैसले पर कहा, 'सुप्रीम कोर्ट की खिंचाई के बाद केंद्र ने यह फैसला लिया, हम इसका स्वागत करते हैं। हमारी मांग राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान चलाने की भी थी, जिसकी अनदेखी की गई। सुप्रीम कोर्ट की लगातार कड़ी मशक्कत के बाद आखिरकार केंद्र जाग गया।'

हमारी अपील सुनने में 4 महीने लग गए: ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि सभी के लिए मुफ्त टीकाकरण की हमारी अपील पर सुनने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चार महीने लग गए। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, 'राजस्थान में कांग्रेस पार्टी द्वारा चलाए गए अभियान #स्पीक फॉर फ्री यूनिवर्सल वैक्सीनेशन में भाग लेने वाले सभी सांसद, विधायक, कांग्रेस कार्यकर्ताओं व आमजन को बधाई। आपकी भावना के कारण आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 18+ सहित सभी देशवासियों के लिए निःशुल्क टीकाकरण की घोषणा करनी पड़ी। यह जनभावनाओं की जीत है।'

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर