Farmers’ protest Updates: हरियाणा के कई जिलों में 30 जनवरी तक इंटरनेट सेवा पर रोक

BKU Protests at Ghazipur: गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के धरने को देखते हुए दिल्ली यातायात पुलिस ने शुक्रवार को यात्रा परामर्श जारी किया। यातायात पुलिस ने शुक्रवार के लिए गाजीपुर बॉर्डर बंद कर दिया है।

Farmers’ protest Updates: BKU Protests at Ghazipur mahapanchayat in UP today
गाजीपुर बॉर्डर पर किसान आंदोलन जारी।  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • गाजियाबाद प्रशासन ने गुरुवार शाम धरनास्थल खाली करने का आदेश जारी किया
  • इस आदेश के बाद गाजीपुर बॉर्डर पर तनाव देखा जा रहा है, किसानों का प्रदर्शन जारी
  • यातायात के लिए गाजीपुर बॉर्डर को बंद कर दिया गया है, यात्रा के लिए परामर्श जारी

नई दिल्ली : दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर पर गुरुवार शाम तनाव उस समय बढ़ गया जब गाजियाबाद प्रशासन ने यहां प्रदर्शन कर रहे किसानों को धरनास्थल खाली करने आदेश जारी कर दिया। शाम होते-होते गाजीपुर धरनास्थल के करीब दंगा-विरोधी दस्ते, रैपिड एक्शन फोर्स सहित भारी संख्या में सुरक्षाकर्मियों का जमावड़ा हो गया। प्रशासन के आदेश के बावजूद भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) नेता राकेश टिकैत एवं प्रदर्शनकारियों ने धरनास्थल छोड़ने से इंकार कर दिया। टिकैत ने कहा है कि उनका आंदोलन जारी रहेगा। इस बीच हरियाणा में किसानों ने जींद जिले में कंडेला गांव के पास चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग को बाधित कर दिया है। 

हरियाणा के कई जिलों नें इंटरनेट सेवा पर रोक
हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, रेवाड़ी और सिरसा जिलों में वॉयस कॉल को छोड़कर इंटरनेट सेवाओं को 30 जनवरी, 2021 शाम 5 बजे तक के लिए बंद करने का निर्णय लिया हैसोनीपत, पलवल व झज्जर में पहले ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाई गई है

पुलिस हरकत में-लाठी चार्ज, आंसू गैस के गोले छोड़े
सिंघु बॉर्डर पर तनाव बढ़ गया है। प्रदर्शनकारियों और स्थानीय लोगों में भिड़ंत हो गई है। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पत्थरबाजी शुरू की जिसके बाद हालात बिगड़ते चले गए हैं। स्थिति पर काबू पाने के लिए सुरक्षाबलों ने लाठीचार्ज किया है और आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। सिंघु बॉर्डर पर तनाव बना हुआ है। पुलिस बल प्रयोग को स्थिति पर नियंत्रण पाने की कोशिश कर रही है।


सिंघु बॉर्डर से प्रदर्शनकारियों को हटाने पर अड़े स्थानीय लोग

सिंघु बॉर्डर पर हलचल तेज हो गई है। दरअसल, यहां बड़ी संख्या में स्थानीय लोग जुटे हैं और प्रदर्शनकारियों से धरना स्थल खाली करने की मांग कर रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि ट्रैक्टर रैली के दौरान इन लोगों ने तिरंगे का अपमान किया। यहीं, नहीं दो महीने से ज्यादा धरने पर बैठने की वजह से उन्हें असुविधा हो रही है और उनका कारोबार प्रभावित हो गया है। स्थानीय लोग 'सिंघु बॉर्डर खाली करो' के नारे लगाते देखे गए। स्थानीय लोग और प्रदर्शनकारियों के बीच किसी तरह का टकराव न हो, इसे टालने में सुरक्षाकर्मी जुटे हैं।  

क्राइम ब्रांच करेगी नौ गंभीर मामलों की जांच
किसान ट्रैक्टर रैली हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने  33 प्राथमिकियां दर्ज की हैं और इनमें से नौ गंभीर मामलों की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच करेगी। इसके पहले दिल्ली पुलिस ने छह किसान नेताओं को नोटिस जारी किया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल उपद्रवियों की पहचान के लिए सीसीटीवी कैमरों एवं मोबाइल फोन रिकॉर्डिंग की जांच कर रही है। हिंसा मामले में दीप सिद्धू, लक्खा सिंह, जुगराज सिंह की भूमिका की पुलिस के रडार पर है। 

गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे सिसोदिया
गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि गुरुवार रात यहां पर पानी और शौचालय की व्यवस्था की गई। उन्होंने कहा, 'मैं यह देखने आया था कि ये सारी व्यवस्थाएं सुचारू रूप से चल रही हैं या नहीं।'

गाजीपुर बॉर्डर जाएंगे मनीष सिसोदिया
दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया गाजीपुर बॉर्डर पहुंचने वाले हैं। बताया जा रहा है कि सिसोदिया धरनास्थल पर बिजली-पानी की आपूर्ति का जायजा लेंगे। गाजियाबाद प्रशासन ने धरना स्थल पर बिजली का कनेक्शन काट दिया है। इसके पहले राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी धरना स्थल पहुंचे और किसानों को अपना समर्थन दिया।

सिंघु बॉर्डर पर कड़ी सुरक्षा
किसानों के जारी प्रदर्शन को देखते हुए टिकरी बॉर्डर पर सुरक्षाबलों की भारी तैनाती की गई है। सिंघु बॉर्डर पर भी सुरक्षाकर्मियों की संख्या में इजाफा कर दिया गया है।  

यातायात के लिए गाजीपुर बॉर्डर बंद
गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के धरने को देखते हुए दिल्ली यातायात पुलिस ने शुक्रवार को यात्रा परामर्श जारी किया। यातायात पुलिस ने शुक्रवार के लिए गाजीपुर बॉर्डर बंद कर दिया है। एनएच-25, एनएच-9, रोड नंब 56, 57 ए, कोंडली, पेपर मार्केट, टेल्को टी प्वाइंट, ईडीएम मॉल, अक्षरधाम, निजामुद्दीन खट्टा से ट्रैफिक डॉयवर्ट किया गया है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि इन इलाकों एवं विकास मार्ग पर ट्रैफिक बहुत ज्यादा है। इसके अलावा सिंघुर, औचंडी, मंगेश, सबोली, पिआउ मनियारी बॉर्डर बंद है। लामपुर, साफियाबाद, सिंघु स्कूल एवं पल्ला टोल टैक्स बॉर्डर खुला रखा गया है। डीएसआईडीसी नरेला के समीप एनएच 44 से ट्रैफिक डॉयवर्ट किया गया है। आउटर रिंग रोड, जीटीके रोड एवं एनएच 44 का इस्तेमाल करने से बचने की सलाह दी गई है।

गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन जारी
तीन कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी है। किसान यहां पूरी रात जगे रहे। शुक्रवार सुबह किसानों ने यहां 'जय जवान, जय किसान' के नारे लगाए। धरनास्थल के बगल में उत्तर प्रदेश पुलिस और पीएसी के जवान भारी संख्या में तैनात हैं।  

सिसौली में महापंचायत
मुजफ्फरनगर सिसौली गांव में गुरुवार को एक महापंचायत हुई। यहां के जीआईसी मैदान में शुक्रवार को एक बड़ी सभी होनी है। बता दें कि तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी यूपी के ज्यादातर किसान गत नवंबर के आखिरी सप्ताह से सिंघु बॉर्डर, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर धरने पर बैठे हैं। गत 26 जनवरी को किसानों ने दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकाली। इस ट्रैक्टर रैली में हिंसा और उत्पात हुई। प्रदर्शनकारियों ने लाल किले पर बवाल किया और ऐतिहासिक लाल किले की प्राचीर पर धार्मिक झंडा फहराया। आईटीओ, लालकिला और दिल्ली में अन्य जगहों पर हुई झड़प में करीब 394 पुलिसकर्मी घायल हुए जबकि ट्रैक्टर पलटने से एक युवक की मौत हुई।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर