डॉ अनिल जैन का कब्जा कायम, फिर से चुने गए भारत स्काउट्स एंड गाइड के अध्यक्ष

देश
अमित गौतम
Updated Nov 15, 2021 | 11:48 IST

बीजेपी के राज्यसभा सासंद डॉ. अनिल जैन एक बार फिर भारत स्काउट्स एंड गाइड के अध्यक्ष पद के लिए चुने गए है। उनका दूसरा कार्यकाल 2021 से 2026 तक रहेगा।

Dr. Anil Jain re-elected Chairman of Bharat Squad and Guide
डॉ अनिल जैन, भारत स्काउट्स एंड गाइड के अध्यक्ष 

57 लाख सदस्यों और देश के सबसे बड़े युवा संगठन में से एक भारत स्काउट्स एंड गाइड के अध्यक्ष पद के लिए चुने गए है बीजेपी के राज्यसभा सासंद डॉ. अनिल जैन। पहला कार्यकाल पूरा करने के बाद अब जैन का कार्यकाल 2021 से 2026 तक रहेगा, तो वहीं राष्ट्रीय आयुक्त के लिए पूर्व आईएएस के.के खण्डेवाल के चुना गया है।

कितने दिन का होता है कार्यकाल

इस संगठन में अध्यक्ष पद का कार्यकाल 5 साल का होता है, यानी की डॉ. अनिल जैन इस पद पर पांच साल रहेंगे। तो वहीं डॉ. जैन ने कार्यभार संभालने के बाद कहा कि ये सम्मान और विशेषाधिकार की बात है, जो मुझे भारत स्काउट्स एंड गाइड का दूसरी बार अध्यक्ष चुने जाने का अवसर मिला है।

कौन है डॉ. अनिल जैन

डॉ. अनिल जैन पेशे से डॉक्टर थे, लेकिन राजनीति में आने के बाद इस वक्त वो बीजेपी से उत्तर प्रदेश के राज्यसभा सांसद है और साथ ही भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव के साथ-साथ हरियाणा और छत्तीसगढ़ के प्रभारी के पद रह चुके है।क्या है भारत स्काउट्स एंड गाइड

भारत में स्काउट्स एंड गाइड करीब 54 लाख सदस्यों का प्रतिनिधित्व करता है। जो कि देश के सबसे बड़े युवा संगठन में से एक है और साथ ही राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के साथ सभी क्षेत्रीय रेलवे, केंद्रीय विद्यालय संगठन और नवोदय विद्याल संघों में है। यही नहीं भारत स्काउट्स एंड गाइड  स्काउट्स मूवमेंट के विश्व संगठन के साथ-साथ वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ गर्ल गाइड्स एंड गर्ल स्काउट्स से संबंध है। भारत स्काउट्स एंड गाइड्स को युवा मामले और खेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है। ये संगठन व्यक्ति की शारीरिक, बौद्धिक, सामाजिक, आध्यात्मिक और भावनात्मक क्षमता के विकास के लिए काम करता है।

कब हुई थी शुरुआत

भारत में स्काउटिंग की शुरुआत साल 1909 में बेंगलुरू से हुई थी। वहीं देश में पहली गाइड कंपनी की स्थापना 1911 में जबलपुर में हुई थी। अगर आपको इसके बारे में ज्यादा जानकरी चाहिए तो वहीं आप www.bsgindia.org पर सकते है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर