Delhi Meerut Expressway: जनाब अब दो घंटे नहीं सिर्फ 50 मिनट में पहुंचे मेरठ, 1अप्रैल को उद्घाटन

देश
ललित राय
Updated Mar 31, 2021 | 16:36 IST

पहले दिल्ली से मेरठ जाने में पसीने छूट जाते थे। कम से कम दो से तीन घंटे लगते थे। लेकिन एक अप्रैल से दिल्ली- मेरठ एक्सप्रेस वे औपचारिक तौर से खोल दिया जाएगा और यात्रियों को सिर्फ 50 मिनट समय लगेगा।

Delhi Merrut Expressway: जनाब अब दो घंटे नहीं सिर्फ 50 मिनट में पहुंचे मेरठ, 1 अप्रैल को उद्घाटन
दिल्ली से मेरठ जाने में लगते थे दो से तीन घंटे 

मुख्य बातें

  • दिल्ली- मेरठ एक्सप्रेस वे का 1 अप्रैल को औपचारिक उद्घाटन
  • एक्सप्रेस वे पर जितनी दूरी तय करेंगे उसके हिसाब से टोल देना होगा
  • बेलगाम रफ्तार पर लगाम के लिए स्पीड लिमिट तय, दो पहिया वाहन और ट्रैक्टर के प्रवेश पर पाबंदी

नई दिल्ली। दिल्ली से मेरठ जाने वाले या मेरठ से दिल्ली आने वालों के लिए खुशखबरी है। एक अप्रैल से आम जनता के लिए दिल्ली- मेरठ एक्सप्रेस वे को आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा। इसका अर्थ यह है कि बिना किसी जाम में फंसे हुए अब आप दिल्ली से मेरठ आ जा सकते हैं। इससे ना सिर्फ समय की बचत होगी बल्कि ईंधन की खपत में भी कमी आएगी। इस विश्वस्तरीय सड़क के बारे में हम विस्तार से बताएंगे। लेकिन उससे पहले रूट् के बारे में समझना जरूरी है।

दिल्ली मेरठ के साथ इन शहरों की राह होगी आसान
दिल्ली- मेरठ एक्सप्रेस वे वैसे तो सीधे तौर पर दिल्ली और मेरठ को जोड़ रहा है। लेकिन जो लोग उत्तराखंड यानी हरिद्वार, ऋषिकेष और देहरादून जाते हैं उनके लिए सफर आसान होगा। इसके साथ ही पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दूसरे शहरों जैसे कि गाजियाबाद, हापुड़, शामली, मुजफ्फरनगर जाने वालों के लिए भी सफर आसान होगा। इसके अलावा यह एक्स्प्रेस वे इस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे से भी जुड़ रहा है।

जितना सफर उतना टोल
इस एक्सप्रेस वे की सबसे बड़ी खासियत यह है कि आप जितना सफर करेंगे उतना ही टोल अदा करना होगा। यहां बता दें कि अभी टोल की दरें निर्धारित नहीं है। अगर आप दिल्ली- मेरठ एक्स्प्रेस वे पर दाखिल होते हैं तो आपकी गाड़ी में फास्टैग होना जरूरी है। यहां एक बात और ध्यान में रखने की जरूरत है कि अगर आपने 3 किमी की दूरी भी तय की तो भी आपको टोल अदा करना होगा। इसके लिए एंट्री प्वाइंट के साथ साथ एग्जिट प्वाइंट पर कैमरे लगाए गए हैं। ये कैमरे आप की गाड़ी के मूवमेंट के बारे में सभी रिकॉर्ड दर्ज कर लेंगे।

एक्सप्रेस वे पर बेलगाम रफ्तार पर खास नजर
दिल्ली- मेरठ एक्सप्रेस वे पर कोई भी बेलगाम रफ्तार से अपनी गाड़ी ना दौड़ा सके इसका भी खास ख्याल रखा गया है। इस एक्सप्रेस वे पर ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रीड करने वाले कैमरों का इस्तेमाल किया गया है। खास बात यह है कि ये कैमरे ना सिर्फ आगे और पीछे के नंबर प्लेट के बारे में जानकारी दर्ज करेंगे बल्कि यह भी देखेंगे कि कहीं किसी तरह घालमेल तो नहीं है। इसका अर्थ यह है कि दोनों नंबर प्लेट में किसी तरह की भिन्नता तो नहीं है। दिल्ली से यूपी गेट तक 70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार, यूपी गेट से मेरठ तक 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार निर्धारित की गई है। इसके अलावा एक्सप्रेसवे पर टू व्हीलर और ट्रैक्टर प्रतिबंधित रहेंगे। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर