भारत में लॉन्च हुई कोरोना की दवा 'एंटीबॉडी कॉकटेल', ट्रंप से है खास कनेक्शन, कीमत होश उड़ा देगी

कंपनी ने अपने एक बयान में कहा, 'एंटीबॉडी कॉकटेल कि प्रत्येक 1200 एमजी के डोज में 600 एमजी Casirivimab और 600 एमजी Imdevimab है। प्रत्येक डोज की कीमत 59,750 रुपए है।

COVID antibody cocktail used to treat Donald Trump now launched in India
भारत में लॉन्च हुई कोरोना दवा 'एंटीबॉडी कॉकटेल'। 

मुख्य बातें

  • दवा निर्माता कंपनी रोचे इंडिया ने भारत में लॉन्च की अपनी कोरोना दवा
  • अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपती डोनाल्ड ट्रंप को दी जा चुकी है 'एंटीबॉडी कॉकटेल'
  • दवा की एक डोज की कीमत 59,750 रुपए है, जून में आएगी दवा की दूसरी खेप

नई दिल्ली : दवा निर्माता कंपनी रोचे इंडिया ने सोमवार को कहा कि उसने अपनी कोविड-19 रोधी 'एंटीबॉडी कॉकटेल' की पहली खेप भारत में लॉन्च की है। 'एंटीबॉडी कॉकटेल' Casirivimab और Imdevimab की प्रत्येक डोज की कीमत 59,750 रुपए है। इस दवा के बारे में खास बात यह है कि इसे पिछले साल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को दिया गया था। ट्रंप पिछले साल कोरोना से संक्रमित हुए थे। दवा की दूसरी खेप जून में उपलब्ध होगी।

1200 एमजी के डोज में उपलब्ध है दवा
कंपनी ने अपने एक बयान में कहा, 'एंटीबॉडी कॉकटेल कि प्रत्येक 1200 एमजी के डोज में 600 एमजी Casirivimab और 600 एमजी Imdevimab है। प्रत्येक डोज की कीमत 59,750 रुपए है। मल्टी डोज पैक की अत्यधिक रिटेल कीमत 1,19,500 रुपए होगी। दवा के प्रत्येक पैक का इस्तेमाल दो मरीजों के उपचार में हो सकता है।' कंपनी का कहना है कि भारत में इस दवा को सिपला बेचेगी और दवा की दूसरी खेप जून के मध्य में उपलब्ध होगी। 

जून के मध्य तक आएगी दवा की दूसरी खेप 
सिपला और रोचे की ओर से जारी संयुक्त बयान में कहा गया है, 'एंटीबॉडी कॉकटेल (Casirivimab, Imdevimab) की पहली खेप अब भारत में उपलब्ध है। जबकि दवा की दूसरी खेप जून के मध्य तक उपलब्ध होगी। अभी भारत में उपलब्ध एक लाख डोज से दो लाख मरीजों का इलाज हो सकता है।' यह दवा प्रमुख अस्पतालों एवं कोविड उपचार केंद्रों पर उपलब्ध होगी। 

अमेरिका, यूरोप में आपात इस्तेमाल की इजाजत
सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (सीडीएससीओ) ने हाल ही में भारत में 'एंटीबॉडी कॉकटेल' के आपात इस्तेमाल की इजाजत दी है। इसके पहले इस दावा को अमेरिका और यूरोपीय संघ के अन्य देशो में आपात इस्तेमाल की इजाजत मिल चुकी है। यह दवा हल्के से मध्यम कोरोना लक्षण वाले मरीजों एवं 12 साल के बच्चों, जिनका वजन कम से कम 40 किलो हो, दी जा सकती है। 

हल्के, मध्यम लक्षण वाले मरीजों के उपचार में मददगार
यह दवा अत्यंत जोखिम वाले मरीजों की हालत गंभीर होने से पहले उपचार में मददगार साबित हुई है। यह दवा मरीज को अस्पताल में भर्ती होने के संभावना और जान जाने के खतरे को भी 70 प्रतिशत तक कम करती है।   

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर