कोरोना के खिलाफ जंग में CDS जनरल बिपिन रावत का बड़ा योगदान, हर महीने दे रहे इतने पैसे

कोविड 19 के खिलाफ लड़ाई में और अधिक योगदान के मकसद से चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत ने 12 महीने तक हर महीने अपने वेतन से 50,000 रुपए पीएम केयर्स फंड में देने का फैसला किया है।

Chief of Defence Staff General Bipin Rawat
चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत 

नई दिल्ली: देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत ने कोरोना वायरस के खिलाफ देश की लड़ाई में बड़ा योगदान देने का फैसला किया है। उन्होंने कोविड 19 महामारी से लड़ने के लिए बनाए गए PM CARES फंड में अगले एक साल के लिए हर महीने अपने वेतन से 50,000 रुपए का दान देना शुरू कर दिया है। इस तरह वो कुल 6 लाख रुपए का दान देंगे। 

न्यूज एजेंसी ANI के अनुसार, रक्षा सूत्रों ने बताया कि मार्च में सीडीएस ने संबंधित अधिकारियों को लिखा था कि अगले एक साल के लिए उनके वेतन से 50,000 रुपए काटे जाएंगे और पीएम केयर्स फंड में जमा किए जाएंगे। पत्र लिखे जाने के बाद पहली बार 50,000 रुपए की कटौती अप्रैल के वेतन से की गई और कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए बनाए गए कोष में जमा की गई। इसके अलावा सीडीएस ने पीएम केयर्स फंड में अन्य सभी रक्षा सेवाओं के कर्मियों के साथ एक दिन का वेतन भी दान दिया था। 

अब रक्षा मंत्रालय के कर्मचारियों को अगले एक साल के लिए हर महीने एक दिन का वेतन दान करने का विकल्प दिया गया है और यह स्वेच्छा से किया जाएगा। सूत्रों ने कहा कि सीडीएस द्वारा पीएम CARES फंड में हर महीने 50,000 रुपए दान करने से अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के भी प्रोत्साहित होने की संभावना है।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के सदस्य और पूर्व तटरक्षक प्रमुख राजेंद्र सिंह ने भी अपने वेतन का 30 प्रतिशत पीएम केयर फंड को दान कर दिया है। पीएम फंड में सेना मुख्यालय में कई वरिष्ठ अधिकारियों ने योगदान दिया है।

अर्धसैनिक बलों के कर्मियों ने दिए 116 करोड़ रुपए

कोराना वायरस के खिलाफ जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर सभी अर्धसैनिक बलों के कर्मियों ने पीएम केयर्स फंड में अपने एक दिन का वेतन (कुल 116 करोड़ रुपए) का योगदान दिया था। अर्धसैनिक बलों के इस योगदान पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि वो इस योगदान के लिए सभी का आभार व्यक्त करते हैं।

PM केयर्स फंड से 3100 करोड़ रुपए आवंटित

हाल ही में प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) की तरफ से जानकारी दी गई थी कि पीएम केयर्स फंड ट्रस्ट से कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए 3100 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। इन 3100 करोड़ रुपए में से लगभग 2000 करोड़ रुपए की राशि वेंटिलेटर की खरीद के लिए है। प्रवासी मजदूरों की देखभाल के लिए 1000 करोड़ रुपए का इस्तेमाल किया जाएगा और वैक्सीन डेवलेपमेंट के लिए 100 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर