Arpita Mukherjee: अर्पिता मुखर्जी को कोर्ट ने एक दिन की ईडी रिमांड पर भेजा, कल पीएमएलए कोर्ट में होगी पेशी

देश
दीपक पोखरिया
Updated Jul 24, 2022 | 19:07 IST

Arpita Mukherjee: पार्थ चटर्जी की करीबी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी के कोलकाता स्थित घर से 21 करोड़ रुपए नकद बरामद होने के बाद पार्थ चटर्जी की गिरफ्तारी हुई। प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को अर्पिता मुखर्जी को भी गिरफ्तार किया था।

Court sent Arpita Mukherjee on one day ED remand to be produced in PMLA court tomorrow
अर्पिता मुखर्जी को कोर्ट ने एक दिन की ईडी रिमांड पर भेजा। (File Photo) 
मुख्य बातें
  • अर्पिता मुखर्जी की मुश्किलें बढ़ीं
  • अर्पिता मुखर्जी को कोर्ट ने एक दिन की ईडी रिमांड पर भेजा
  • पीएमएलए कोर्ट में कल होगी पेशी

Arpita Mukherjee: पश्चिम बंगाल के गिरफ्तार मंत्री पार्थ चटर्जी की सहयोगी अर्पिता मुखर्जी को प्रवर्तन निदेशालय की एक दिन की हिरासत में भेज दिया गया है। उसे सोमवार को पीएमएलए कोर्ट में पेश किया जाएगा। वहीं अर्पिता मुखर्जी के वकील नीलाद्री भट्टाचार्य ने कहा कि ये केस स्पेशल कोर्ट में ही चल सकता है। ईडी ने 14 दिनों की हिरासत मांगी थी, जिसे अस्वीकार कर दिया गया था। कोर्ट ने 14 दिन की रिमांड नहीं दी है, सिर्फ 1 दिन की रिमांड दी गई है। उन्हें कल विशेष अदालत में पेश किया जाएगा।

कोर्ट ने अर्पिता मुखर्जी को एक दिन की ईडी रिमांड पर भेजा

Arpita Mukherjee: जानिए कौन हैं अर्पिता मुखर्जी, जिनके घर पर मिला नोटों का पहाड़ और मशीनों से हो रही है गिनती

अर्पिता मुखर्जी को शनिवार को ईडी ने किया था गिरफ्तार

इससे पहले दिन में अर्पिता मुखर्जी को कोलकाता में ईडी मुख्यालय से मेडिकल जांच के लिए ले जाया गया।तृणमूल कांग्रेस के नेता पार्थ चटर्जी को प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार 23 जुलाई को पश्चिम बंगाल में कथित स्कूल नौकरी घोटाले की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार किया था। पार्थ चटर्जी की करीबी सहयोगी अर्पिता मुखर्जी के कोलकाता स्थित घर से 21 करोड़ रुपए नकद बरामद होने के बाद पार्थ चटर्जी की गिरफ्तारी हुई। प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को अर्पिता मुखर्जी को भी गिरफ्तार किया था।

West Bengal: SSC Scam में सीधे तौर पर शामिल थे पार्थ चटर्जी, ED को मिले कई अहम सबूत!

उधर तृणमूल कांग्रेस ने गिरफ्तार किए गए पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय के मामले में समयबद्ध तरीके से जांच किए जाने की रविवार को मांग की और कहा कि यदि किसी नेता ने कुछ गलत किया है, तो पार्टी राजनीतिक रूप से उसमें हस्तक्षेप नहीं करेगी। तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता कुणाल घोष ने संवाददाताओं से कहा कि पार्टी का उस महिला से कोई संबंध नहीं है, जिसके पास से नकद रकम मिली है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर