यहां देखें प्राइवेट लैब की पूरी लिस्ट, जहां पर आप मुफ्त में करा सकते हैं कोरोना टेस्ट, जान लें जरूरी बातें

देश
Updated Mar 26, 2020 | 19:18 IST

कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है। इसी के मद्देनजर देशभर में कोरोना टेस्ट के लिए प्रैइवेट लैब खोले गए हैं। जानिए इसके बारे में विस्तार से-

private lab for corona test
कोरोना टेस्ट कराने के लिए प्राइवेट लैब 

मुख्य बातें

  • कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में दिन पर दिन इजाफा
  • कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 10
  • देशभर में खुले कोरोना टेस्ट कराने के लि प्राइवेट लैब

नई दिल्ली : भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। अब तक इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढकर 500 के पार चली गई है जबकि इससे मरने वालों की संख्या 10 हो गई है। आशंका ये तक जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में ये आंकड़ा और भी बढ़ सकता है और स्थिति और भयावह हो सकती है। कोरोना वायरस संक्रमण की बीमारी है ऐसे में बचाव का एकमात्र उपाय है कि लोग एक दूसरे से दूरी बना कर रखें। जितना ज्यादा से ज्यादा हो सके वे अपने ही घरों में रहें और बाहरी लोगों के संपर्क में ना आएं। 

भारत में हर रोज करीब 10 हजार लोगों को सैंपल टेस्ट कर रहा है जिसमें जो लोग कोरोना से पजीटिव पाए जा रहे हैं उन्हें आइसोलेट कर अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है। जिस प्रकार कोरोना मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है ऐसे में देश में निजी टेस्ट लैब भी खोले गए हैं जहां पर आप अपना कोरोना टेस्ट करवा सकते हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने लैब की लिस्ट जारी की है।

क्या कहते हैं विशेषज्ञ
विशेषज्ञों का मानना है कि भारत एक सप्ताह में करीब 50 से 70 हजार कोरोना टेस्ट करवा सकता है। प्राइवेट लैब की मदद से इस क्षमता को बढ़ाया भी जा सकता है। भारत में प्राइवेट लैब को टेस्टिंग के लिए मंजूरी दे दी जा चुकी है। मंगलवार को भारत में 22 टेस्ट लैब चेन को मंजूरी दी गई। इन लैब के देशभर में कुल 15 हजार कलेक्शन सेंटर है जहां से वे सैंपल कलेक्ट कर उसे प्राइवेट लैब में टेस्ट करते हैं।

यहां देखें पूरी लिस्ट
दिल्ली
लाल पैथलैब ब्लॉक ई सेक्टर 18 रोहिणी
डॉ, डंग्स लैब, सी-2/1 सफदरजंग डेवलपमेंट एरिया
इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल सरिता विहार, मैक्स लैब साकेत

गुजरात
यूनिपथ स्पेशलिटी लिमिटेड, 102, सनोमा प्लाजा
सुपरटेक माइक्रोपैथ लैब एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट प्राइवेट लिमिटेड (अहमदाबाद)
एसएन जीनलैब प्राइवेट लिमिटेड, प्रेसीडेंट प्लाजा-ए महावीर अस्पताल (नानपुरा सूरत के पास)

कर्नाटक
न्युबर्ज आनंद संदर्भ प्रयोगशाला, आनंद टॉवर
कस्तूरबा हॉस्पिटल लैब सर्विसेज
सैंसाइट टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड, श्री शंकर रिसर्च सेंटर, बेंगलुरु

हरयाणा
स्ट्रैंड लाइफ साइंसेज( सेक्टर 34 गुरुग्राम)
एसआरएल लिमिटेड, (सेक्टर 18, गुरुग्राम)

तमिलनाडु
क्लिनिकल वायरोलॉजी, सीएमसी, वेल्लोर
डिपार्टमेंट ऑफ लेबोरेटरी सर्विसेज, अपोलो हॉस्पिटल्स एंटरप्राइज लिमिटेड, चेन्नई
न्युबर्ज एर्लिच लैब प्राइवेट लिमिटेड, 46-48 मसिलामणि रोड, बालाजी नगर, चेन्नई

तेलंगाना
प्रयोगशाला सेवाएं, अपोलो अस्पताल, 6ठी मंजिल, हेल्थ स्ट्रीट बिल्डिंग, जुबली हिल्स, हैदराबाद
विजया डायग्नोस्टिक सेंटर प्राइवेट लिमिटेड, स्ट्रीट नं 19, हिमायत नगर, हैदराबाद
विम्ता लैब्स लिमिटेड, प्लम नं 142, फेज 2, आईडीए चेरलापल्ली, हैदराबाद

महाराष्ट्र
थायरोकेयर टेक्नोलॉजीज लिमिटेड, डी 37/1, नवी मुंबई
उपनगरीय डायग्नोस्टिक्स (इंडिया) प्रा. लिमिटेड, 306, 307 / टी, अंधेरी मुंबई
मेट्रोपोलिस हेल्थकेयर लिमिटेड, यूनिट नंबर 409-416, चौथी मंजिल, वाणिज्यिक भवन मुंबई
सर एच.एन. रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर, नवी मुंबई
एसआरएल लिमिटेड मुंबई
एजी डायग्नोस्टिक्स प्राइवेट लिमिटेड, नयनतारा बिल्डिंग, पुणे
कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल लेबोरेटरी, फोर बंगला, मुंबई
इंफेक्सन लेबोरेटरीज प्राइवेट लिमिटेड, ए / 131, ठाणे

असम
एसआरएल डायग्नोस्टिक स्कायलैब असम
मैगपिन्स डायग्नोस्टिक, पलटन बाजार डिब्रूगढ़, असम

बिहार
एसआरएल रीच लिमिटेड, सदर हॉस्पीटल कैंपस, कोर्ट मोड़, धनबाद

चंडीगढ़
एससीओ-24 सेक्टर 11 डी चंडीगढ़

छत्तीसगढ़
डॉ. लाल पैथलैब रायपुर
एसआरएल डायग्नोस्टिक लैब रायपुर

हिमाचल प्रदेश
जोनल हॉस्पीटल, मंडी, रुम. नं. 813, हिमाचल प्रदेश
एसआरएल, ओपीडी नं.3 डॉ. आरपीजीएमसीतंडा, कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश
एसआरएल लिमिटेड, इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेजआईजीएमसी शिमला 
रीजनल हॉस्पीटल हमीरपुर, हिमाचल

जम्मू कश्मीर
डॉ. लाल पैथलैब बी सी रोड जम्मू

केरल
डीडीआरसी डायग्नोस्टिक प्राइवेट लिमिटेड, गांधीनगर कोट्टायम
डीडीआरसी डायग्नोस्टिक प्राइवेट लिमिटेड ग्राउंड फ्लोर एस्टर स्क्वायर मेडिकल कॉलेज त्रिवेंद्रम
डीडीआरसी डायग्नोस्टिक प्राइवेट लिमिटेड एर्नाकुलम जी 131, डीडीआरसी एसआरएल टावर
ईआई मेट्रोपोलिस नॉर्थ स्क्वायर बिल्ड, परामारा रोड, कोचिन

मध्य प्रदेश
एसआरएल लिमिटेड, 34/2 न्यू पलसिया, इंडस्ट्री हाउस के पीछे इंदौर

ओड़िशा
अपोलो हॉस्पीटल, भुवनेश्वर

पंजाब
फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हॉस्पीटल, मजीठा वरका बायपास रोड अमृतसर
एसआरएल लिमिटेड, स्ट्रीट मुंडियन. राधास्वामीसत्संग, फोर्टिस हॉस्पीटल बिल्डिंगचंडीगढ़ रोड सिटी लुधियाना- 141001
फोर्टिस हॉस्पीटल सेक्टर 62 फेस-8 मोहाली पंजाब

राजस्थान
एसआरएल लिमिटेड, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स हॉस्पीटल, जेएलएन मार्ग मालवीय नगर, जयपुर
डॉ, लाल पैथलैब

उत्तर प्रदेश
एसआरएल लिमिटेड बी1/12, विपुल खांड गोमती नगर, लखनऊ
एसआरएल लिमिटेड, फोर्टिस हॉस्पीटल, बी-22, सेक्टर 62- नोएडा

पश्चिम बंगाल
अपोलो ग्लेनेगल्स हॉस्पीटल
एसआरएल लिमिटेड रेफरेंस लैब, सॉल्ट लेक सिटी, कोलकाता, पश्चिम बंगाल
एसआरएल लिमिटेड फोर्टिस हॉस्पीटल, 730, आनंदपुर, ईएम, बायपास रोड कोलकाता
सुरक्षा डायग्नोस्टिक्स, न्यू टाउन कोलकाता
मेडिका सुपर स्पेशलिटी हॉस्पीटल, कोलकाता

आईसीएमआर की ये है गाइडलाइन्स
आईसीएमआर ने जो टेस्टिंग की गाइडलाइन्स शुरू की है उसके मुताबिक प्राइवेट लैब कोरोना की जांच के लिए 45,00 रुपए से ज्यादा नहीं ले सकती। वहीं संदिग्ध मामलों के टेस्ट के लिए अधिकतम 1500 रुपए जबकि कंफर्मेश टेस्ट के लिए अतिरिक्त 3000 रुपए देने की इजाजत दी है। इतना ही नहीं प्राइवेट लैब से ये भी अपील की गई है कि हो सके तो लैब मरीजों का मुफ्त में या फिर सब्सिडी के साथ कोरोना का टेस्ट करें।

इस गाइडलाइन्स के मुताबिक अगर आपको बुखार खांसी और सांस लेने में तकलीफ हो रहा है तो आप स्वास्थ्य केंद्र जा सकते हैं जहां पर आफको बताया जाएगा कि आपको नोवेल कोरोना वायरस का टेस्ट कराना चाहिए कि नहीं। 

इन डॉक्यूमेंट की जरूरत
इसके टेस्ट के लिए आपको डॉक्यूमेंट के तौर पर रेफर करने वाले डॉक्टर का लिखित प्रिस्क्रिप्शन, मरीज का पहचान पत्र (आधार कार्ड,/वोटर आईडी/पासपोर्ट) की जरूरत पड़ेगी। इसके साथ ही रेफर करने वाले डॉक्टर को फॉर्म 44 भरना होगा और उसपर हस्ताक्षर करना होगा। इन सबकी पुष्टि के बाद ही आपका कोरोना टेस्ट हो सकता है। 

कैसे बुक करें स्लॉट
इसके लिए आपको लैब पर नहीं जाना होता है। आपको ऑनलाइन बुकिंग करना होता है या कस्टमर केयर नंबर पर फोन करके स्लॉट बुक कर सकते हैं। लैब वाले आपके घर पर आकर सैंपल लेते हैं। आपके घर पर आने वाला व्यक्ति पूरी तरह से प्रशिक्षित होगा। ये सारे लैब वाले फिर सारी रिपोर्ट सरकार तक  पहुंचाते हैं जहां से कोरोना के संक्रमित मरीजों का ओवरऑल आंकड़ा सामने आता है।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...