Prophet remark row: दारुल उलूम देवबंद ने की नुपुर शर्मा पर सख्त कार्रवाई की मांग

दारुल उलूम देवबंद ने पैगंबर मोहम्मद पर बीजेपी की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा द्वारा दिए गए विवादित बयान की निंदा की और सरकार से आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

Controversial statement on Prophet Mohammad: Darul Uloom Deoband demands strict action against Nupur Sharma
बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा  |  तस्वीर साभार: Facebook

सहारनपुर : दुनिया भर में विख्यात इस्लामिक शिक्षण संस्थान दारुल उलूम देवबंद ने बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर की गई विवादित टिप्पणी की निंदा करते हुए उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। मोहतमीम (कुलपति) दारुल उलूम देवबंद मौलाना मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी ने मंगलवार को बयान जारी कर कहा कि मुसलमान देश की सुरक्षा और शांति के लिए बहुत कुछ झेल रहे हैं, लेकिन पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब की महिमा में कोई भी दुस्साहस (गुस्ताखी) बिल्कुल असहनीय है, जिस पर चुप रहना संभव नहीं है।

मौलाना नोमानी ने कहा कि हमारा देश एक धर्मनिरपेक्ष मुल्क है जो सभी धर्मों को सुरक्षा प्रदान करता है लेकिन पिछले कुछ वर्षों में साम्प्रदायिक तत्वों द्वारा धार्मिक भावनाओं को आहत करने और अजीम हस्तियों की शान में गुस्ताखी करना आम बात हो गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि धार्मिक हस्तियों और धार्मिक पुस्तकों को भी निशाना बनाया जा रहा है जिससे देश में साम्प्रदायिकता बढ़ रही है, जो विश्व स्तर पर देश की धर्मनिरपेक्षता और न्यायपूर्ण छवि को नुकसान पहुंचा रही है।

नोमानी ने हाल में पैगंबर मोहम्मद पर की गई अपमानजनक टिप्पणी की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने ने सरकार से कानून को और अधिक सख्त बनाने की मांग करते हुए इस पर ठोस और जरूरी कदम उठाने पर जोर दिया ताकि दुनिया में देश की धर्मनिरपेक्ष छवि और मान सम्मान बरकरार रहे।

गौर है कि बीजेपी ने पैगंबर मोहम्मद पर दिए गए विवादित बयानों के लिए रविवार को अपनी राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा को पार्टी से निलंबित कर दिया था, जबकि दिल्ली के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल को पार्टी से निष्कासित कर दिया। मुस्लिम समूहों के प्रदर्शनों और अरब जगत की तीखी प्रतिक्रिया के बीच बीजेपी ने एक बयान जारी कर कहा कि वह सभी धर्मों का सम्मान करती है और किसी भी धार्मिक व्यक्तित्व के अपमान की कड़ी निंदा करती है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर