Haryana: आंख उठी तो निकाल लेंगे, हाथ उठे तो काट देंगे, बीजेपी सांसद डॉ अरविंद शर्मा के बिगड़े सुर

हरियाणा से बीजेपी सांसद डॉ अरविंद शर्मा ने कांग्रेस नेता दीपेंद्र हुड्डा पर विवादित बयान दिया है। रोहतक के किलोई में उन्होंने भड़काऊ बयान देते हुए कहा कि कांग्रेस सत्ता पाने का सपना देख रही है।

Haryana, Deepender Hooda, BJP MP Dr Arvind Sharma, Manish Grover Case, Congress, BJP
आंख उठी तो फोड़ देंगे, हाथ उठे तो काट देंगे, बीजेपी सांसद डॉ अरविंद शर्मा के भड़काऊ बोल  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • हरियाणा के किलोई में बीजेपी सांसद डॉ अरविंद शर्मा के बिगड़े बोल, आंख निकालने और हाथ काटने की दी धमकी
  • कांग्रेस नेता दीपेंद्र हुड्डा पर साधा निशाना
  • रोहतक के किलोई में बीजेपी नेताओं किसान आंदोलनकारियों ने बना लिया था बंधक

नेताओं की जुबां का फिसलना या जानबूझकर विवादित बयान देना शोध का विषय है। जब मामला उलटा पड़ता है तो नेता माफी मांगकर आगे की सफर पर निकल पड़ते हैं। दरअसल बात  बीजेपी सांसद डॉ अरविंद शर्मा की हो रही है जिन्होंने रोहतक के किलोई में कांग्रेस नेता दीपेंद्र हुड्डा पर विवादित बयान दिया।

बीजेपी सांसद के भड़काऊ बोल
डॉ अरविंद शर्मा ने कहा कि अगर बीजेपी नेता मनीष ग्रोवर पर उनकी आंख उठी तो आंख फोड़ देंगे और यदि हाथ उठे तो हाथ काट देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस राज पाने के लिए बेचैन है। लेकिन वो बताना चाहते हैं कि कम से कम 25 साल के लिए वो भूल जाएं। अगले 25 साल तक बीजेपी राज से बाहर नहीं जाने वाली है। 

हरियाणा के किलोई में बीजेपी नेताओं का हुआ था विरोध
कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर अड़े किसान आंदोलनकारियों ने हरियाणा के रोहतक में पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर समेत 150 बीजेपी नेताओं को सात घंटे तक बंधक बना लिया था।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ दौरे के लाइव प्रसारण की व्यवस्था हरियाणा के हर जिलों के शिव मंदिरों पर थी और हरियाणा का किलोई भी उनमें से एक था  पर थे।किलोई में बीजेपी नेता एक साथ पीएम मोदी के कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देख रहे थे जिसमें पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर भी इनमें शामिल थे। उसी दौरान कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने बीजेपी नेताओं को बंधक बना लिया था। 

यही नहीं किसान आंदोलन में शामिल कुछ लोगों ने  बीजेपी नेताओं के गाड़ियों की हवा निकाल दी थी।  मंदिर परिसर में लगी टीवी के तार काट दिए थे।मंदिर के मुख्य द्वार पर पत्‍थर रख दिए थे। आंदोलनकारियों की मांग थी कि मनीष ग्रोवर सबसे माफी मांगे, उसके बाद ही वे उन्‍हें रिहा करेंगे। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर